यह है भारत का स्विटजरलैन्ड, यहां जाने के लिए लेनी होती है सरकारी परमिट

author image
Updated on 2 Feb, 2017 at 6:21 pm

Advertisement

कोहिमा को आमतौर पर भारत का स्विटजरलैन्ड कहा जाता है। पूर्वोत्तर के राज्य नगालैन्ड की राजधानी कोहिमा दरअसल अंगामा नागा जनजाति की धरती है।

आपको जानकर आश्चर्य हो सकता है कि यहां जाने के लिए आपको सरकार द्वारा जारी इनर परमिट लाइन की आवश्यकता होगी।

कहा जाता है कि कोहिमा दूसरे देश की सीमाओं के नजदीक है, इसलिए यहां सुरक्षा कारणों से बगैर आदेश के आने की अनुमति नहीं मिलती। परमिट लेकर जाने वाले लोग भी एक निश्चित समय तक ही वहीं रह सकते हैं।

इनर लाइन परमिट भारत का आधिकारिक यात्रा दस्तावेज है, जो देश और विदेशों के टूरिस्ट्स को प्रोटेक्टेड एरिया में जाने के लिए परमिट देता है।

यहां रहने वाले आदिवासी समुदाय की संस्कृति रंगों से सराबोर है। यही वजह है कि यहां पर्यटक बार-बार जाना चाहते हैं। यह संस्कृति इतनी खूबसूरत है कि पर्यटक मंत्रमुग्ध हो जाते हैं।


Advertisement

कोहिमा शहर से करीब 30 किलोमीटर दूरी पर स्थित दजुकोउ घाटी एक बेहद खूबसूरत जगह है। यहां खास तरह के फूल पाए जाते हैं, जिनमें एकोनिटम और एन्फोबियस प्रमुख हैं।

इसके ठीक नजदीक है जप्फु चोटी। जप्फू मनोहारी दृश्यों से भरपूर है। इस पहाड़ की चोटी पर घने और सदाबहार जंगल हैं।

इसके अलावा यहां राज्य संग्राहलय, एम्पोरियम, नागा हेरिटेज कॉम्पलैक्स, कोहिमा गांव, दजुकोउ घाटी, जप्फु चोटी, त्सेमिन्यु, खोनोमा गांव, दज्युलेकी और त्योफेमा टूरिस्ट गांव प्रमुख हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement