भारत में इस तरह तय होते हैं पेट्रोल के रेट, आप भी देखिए

author image
Updated on 5 Feb, 2016 at 3:18 pm

Advertisement

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमत 35 डॉलर प्रति बैरल से नीचे आ गई है, इसके बावजूद पेट्रोल या डीजल की कीमतों में अपेक्षा के अनुरूप कमी देखने को नहीं मिली है। Factly द्वारा बनाये गए इन इन्फोग्राफिक्स के ज़रिए हम आपको बताने जा रहे हैं कि देश में पेट्रोल की कीमत किस तरह तय की जाती हैं। यहां जो आंकड़े दिए गए हैं, वे 1 फरवरी 2016 के आधार पर दिए गए हैं।

oil

1. सरकार कच्चे तेल के बैरल खरीदती है। 1 बैरल में 159 लीटर तेल आता है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में फिलहाल जो तेल की कीमतें हैं, उसके हिसाब से 1 लीटर का मूल्य होता है 11.21 पैसे।

1

2. इसमें ओशन फ्रेट शुल्क और ट्रांसपोर्ट चार्जेज़ 8.1 पैसे जोड़े जाते हैं। इस तरह 1 लीटर का मूल्य हो जाता है 19.22 पैसे।

2

3. भारतीय बंदरगाहों पर पहुंचने के बाद इसमें जोड़ा जाता है रिफ़ाइनरी ट्रांसफर शुल्क। इससे 1 लीटर तेल का मूल्य हो जाता है 19.70 पैसे।

3

4. पेट्रोल पंप के मालिकों को तेल देने के बाद इसके 1 लीटर की कीमत हो जाती है 23.47 पैसे।


Advertisement

4

5. केन्द्र सरकार के एक्साइज़ ड्यूटी जोड़ने के बाद 1 लीटर तेल की कीमत हो जाती है 44.95 पैसे।

5

6. डीलर कमीशन जोड़े जाने के बाद 1 लीटर तेल का मूल्य हो जाता है 47.20 पैसे।

6

7. इसके बाद हर राज्य सरकार अपने-अपने हिसाब से Value Added Tax (VAT) जोड़ती है।

7

साभारः Facty

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement