पिछले 5 सालों में 298 भारतीयों ने ली पाकिस्तान की नागरिकता

author image
Updated on 21 Aug, 2017 at 3:18 pm

Advertisement

ये सुनकर आपको थोड़ा अचरज लगे लेकिन ये सच है कि भारत के लोग पड़ोसी देश पाकिस्तान की नागरिकता लेकर वहां बस रहे हैं। पिछले 5 साल में पाकिस्तान ने 298 भारतीयों को अपने देश की नागरिकता दी है।

पाकिस्तान के गृह मंत्रालय ने यह जानकारी दी।

गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए गए एक बुलेटिन में कहा गया है कि 2012 से 14 अप्रैल 2017 तक 298 प्रवासी भारतीयों को पाकिस्तान की नागरिकता दी गई है।

आंकड़ों के मुताबिक, 2012 में 48, 2013 में 75 और 2014 में 76 भारतीय प्रवासियों को पाकिस्तान की नागरिकता दी गई। वहीं, साल 2015 में सिर्फ 15 भारतीयों को पाकिस्तानी नागरिकता दी गई, जबकि 2016 में यह आंकड़ा 69 लोगों का था।



Pakistan

dnd


Advertisement

आपको बता दे कि पाकिस्तान को दुनिया में आतंकवाद का सबसे बड़ा निर्यातक देश माना जाता है। यह देश इस्लामिक आतंकियों को पनाह देने के लिए बदनाम है। यहां अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन आराम से अपनी जिन्दगी बसर कर रहा था। साथ ही यहां की नागरिकता हासिल आसान नहीं है। इसके बावजूद बड़ी संख्या में भारत समेत अफगानिस्तान, बांग्लादेश जैसे देशों से आए अवैध प्रवासी यहां अपना ठिकाना बनाकर रह रहे हैं।

आपको ज्ञात हो कि मार्च 2016 में पाकिस्तान के गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने एक भारतीय महिला को पाकिस्तान की नागरिकता दी थी। इस महिला ने पाकिस्तान के एक शख्स से शादी की थी और वहीं बस गई थी। लेकिन पति के बाद के बाद महिला के सौतेले बेटे ने उसे कथित तौर पर संपत्ति से बेदखल कर दिया था।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement