सरकार से नहीं मिली कोई आर्थिक मदद, अब इस भारतीय महिला आइस हॉकी टीम ने विदेश में लहराया जीत का परचम

author image
Updated on 10 Mar, 2017 at 4:00 pm

Advertisement

भारतीय महिला आइस हॉकी टीम ने एशियन चैंपियनशिप टूर्नामेंट में फिलिपींस को 4-3 से शिकस्त देकर पहली बार अंतरराष्ट्रीय मैच में जीत का परचम लहराया है।

बैंकाक में हुए इस चैलेंज कप ऑफ एशिया में भारतीय महिला आइस हॉकी टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन दिखाया। यह पहली बार है, जब इस टीम ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बड़ी जीत अपने नाम दर्ज की है।

आपको बता दें कि टीम को इस टूर्नामेंट में जाने के लिए सरकार से कोई आर्थिक मदद नहीं मिली थी। टीम ने चंदा जुटाकर ट्रेनिंग, टिकट, वीजा, जर्सी और अन्य सामान की व्यवस्था की थी।

इस टीम के पास इतना पैसा नहीं था कि वह इस टूर्नामेंट में खेलने बैंकाक जा सके और सभी खिलाडियों का खर्चा उठा सके। एक क्राउड फंडिंग प्लेटफार्म पर करीबन 3000 से अधिक लोगों ने फंड इकट्ठा कर टीम की ट्रेनिंग, आवास, हवाई किराया वीजा, टीम जर्सी जैसी अन्य चीजों की व्यवस्था की।

चूंकि यह खेल अधिकतर लेह, लद्दाख और कारगिल जैसे क्षेत्रों में खेला जाता है, इसलिए अब तक इस खेल को कॉरपोरेट प्रायोजकों का साथ नहीं मिल सका है।

यकीनन यह जीत टीम के मनोबल को बढ़ाने में अहम है। इन खिलाडियों की खुशी का अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि जीत दर्ज करते ही मैदान में भारत माता की जय की जयघोष, खिलाड़ियों ने तिरंगे को हाथ में लिए अपनी खुशी का इजहार किया।

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement