धनतेरस: पूरी दुनिया में हमारे देश की महिलाओं के पास है सबसे ज़्यादा सोना

Updated on 5 Nov, 2018 at 6:58 pm

Advertisement

सोना बहुत महंगा है और खासतौर पर महिलाओं का फ़ेवरेट भी। सोने को हमारे देश में समृद्धि से भी जोड़कर देखा जाता है, तभी तो धनतेरस के मौके पर सोना खरीदने की परंपरा है। खासकर महिलाएं इस दिन गहने ज़रूर बनवाती हैं। भारतीय महिलाओं को सोने से बहुत लगाव है, तभी तो एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय महिलाओं के पास सबसे ज़्यादा सोना है।

 

 

वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की इस रिपोर्ट के अनुसार, दुनियाभर में जब से सोने के खनन की शुरुआत हुई है, तब से अब तक खुदाई में लगभग दो लाख टन सोना निकाला जा चुका है। अकेले भारत में ही 24 हजार टन सोना होने का अनुमान है। इसमें भी भारतीय महिलाओं के पास 21 हजार टन सोना है। ये आंकड़ा दुनिया में सबसे ज़्यादा है।

 

आपको जानकर हैरानी होगी जितना सोना हमारे देश की महिलाओं के पास है, इतना सोना सबसे ज़्यादा गोल्ड रिजर्व रखने वाले टॉप के पांच देशों के बैंकों के स्टॉक को मिलाकर भी नहीं है।

 

 

हमारे देश में लोगों को सोने से बहुत प्यार है और निवेश के लिए ज़मीन के बाद वो सोने को ही प्राथमिकता देते हैं। लोग अपनी बचत का 84 प्रतिशत हिस्सा तक रियल एस्टेट में लगाते हैं तो 11 प्रतिशत हिस्सा गोल्ड में जाता है। घरों में मौजूद सोने में करीब 80 प्रतिशत हिस्सा सिर्फ़ गहनों का ही है। साफ़ है सोने से ज़्यादा लगाव महिलाओं को ही है। भले ही वो गहने पहने नहीं, लेकिन खरीदती ज़रूर है।


Advertisement

 

भले ही भारतीय महिलाओं के पास सोना सबसे ज़्यादा है, लेकिन जहां तक सोने के उत्पादन का सवाल है तो भारत इसमें बहुत पीछे है। स्टेटिस्टा के मुताबिक, देश में 2017 में सिर्फ़ 1,594 किलो यानी डेढ़ टन सोने का उत्पादन हुआ। कर्नाटक में सोने का सबसे ज़्यादा प्रोडक्शन होता है।

 

 

महिलाओं के अलावा हमारे देश के मंदिरों में भी ढेर सारा सोना है। मंदिरों में करीब ढाई हजार टन सोना है। केरल के पद्मनाभ स्वामी मंदिर में 1300 टन सोना होने का अनुमान है। वैसे दुनिया का सबसे अमीर मंदिर आंध्र प्रदेश का तिरुपति मंदिर माना जाता है। हर महीने यहां 100 किलो सोना चढ़ता है। मंदिर के पास 250 से 300 टन सोना है। कुछ समय पहले मंदिर ने 4.5 टन सोना बैंक डिपॉजिट स्कीम में भी रखा।

 

 

आपको बता दें हर साल दुनियाभर में लगभग 3 हजार टन सोना खनन से निकाला जा रहा है। दुनिया भर में जितना सोना है उसका लगभग 48 फ़ीसदी ज़ेवरात के रूप में है। यानी लोग सोने के गहने ज़्यादा पसंद करते हैं। सोने के उत्पादन में चीन सबसे आगे है। चीन ने 2017 में 426.14 टन सोने का उत्पादन किया। सोने के इस्तेमाल में भी चीन बाकी देशों से आगे हैं। चीन में सोने की सबसे ज़्यादा बिक्री न्यू ईयर पर होती है। आज धनतेरस है ऐसे में देश भर के गहनों की दुकानों पर महिलाओं की भारी भीड़ लगी हुई है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement