इस भारतीय छात्र ने बनाया दुनिया का सबसे हल्का सेटेलाइट, 64 ग्राम है वजन

author image
Updated on 15 May, 2017 at 3:14 pm

Advertisement

तकनीक के मामले में भारतीय प्रतिभाएं आगे बढ़ रही हैं। 18 साल की उम्र के रिफत शारूक ने दुनिया का सबसे हल्के सेटेलाइट बनाने का कारनामा कर दिखाया है। खास बात यह है कि इस सेटेलाइट की लॉन्चिंग अमेरिकी अंतरिक्ष एजेन्सी नासा करने जा रहा है।

64 ग्राम के इस सेटेलाइट का नामकरण मिसाइलमैन डॉ. अब्दुल कलाम के नाम पर किया गया है। इसका नाम है कलामसैट।

86 हजार डिजाइन्स में से चुने गए कलामसैट को अगले 21 जून को नासा के साउडिंग रॉकेट से लॉन्च किया जाएगा। इस सैटेलाइट का लक्ष्य 3D प्रिटेंड कार्बन फाइबर के परफॉमेंस को प्रदर्शित करना और तापमान व रेडिएशन को रिकॉर्ड करना होगा। इस मिशन अवधि 240 मिनट होगी


Advertisement

नासा द्वारा आयोजित ‘क्यूब्स इन स्पेस’ कॉम्पटीशन में 57 देशों के प्रतिभागियों ने 86 हजार से अधिक डिजाइन भेजे थे। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि रिफत के डिजाइन के अलावा करीब अन् 80 मॉडल्स भी चुने गए हैं।

64 ग्राम वजनी इस सेटेलाइट को बनाने में 2 साल का समय लगा है और इस पर 1 लाख रुपए का खर्च आया है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement