मुंबई में पैदा हुए थे लीयो वरधकर, अब बनेंगे आयरलैंड के प्रधानमंत्री

Updated on 5 Jun, 2017 at 12:40 pm

Advertisement

भारतीय मूल के लीयो वरधकर का आयरलैंड का प्रधानमंत्री बनना तय हो गया है। इस माह के अंत में आधिकारिक तौर पर ताओसीच का पदभार संभालेंगे। मेनशन हाउस में मतगणना के बाद उन्हें पार्टी का 11वां नेता घोषित किया गया है।

लियो वरधकर ने शुक्रवार को सत्ताधारी पार्टी के नेतृत्व चुनाव में जीत हासिल कर ली जिससे उनका देश का सबसे युवा प्रधानमंत्री बनने का मार्ग प्रशस्त हो गया।

वे मात्र 38 वर्ष की उम्र में पीएम बनने जा रहे हैं। आयरलैंड में प्रधानमंत्री के पद को ताओसीच कहा जाता है। फाइन गेल पार्टी के नेतृत्व की दौड़ में उन्हें विजयी घोषित किया गया है।



लीयो वरधकर एक समलैंगिक हैं। फाइन गेल पार्टी के नेतृत्व की दौड़ में उन्हें विजयी घोषित किए जाने के बाद वरधकर इस माह के अंत में आधिकारिक तौर पर ताओसीच का पदभार संभालेंगे। उन्हें पार्टी का 11वां नेता घोषित किए जाने के बाद देशभर से प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।

वरधकर की जीत का भारत में उनके परिवार ने भी जश्न मनाया।

मुंबई में उनकी रिश्तेदार शुभदा ने कहाः

 ‘हम इस खबर से काफी खुश हैं। हम अभियान और आज की मतगणना पर नजर बनाए हुए थे। परिणाम की घोषणा होते ही हमने केक काटा और उनकी सफलता का जश्न मनाया। मैंने अभी आयरलैंड जाने पर निर्णय नहीं लिया है लेकिन मैं जल्द से जल्द उनसे मुलाकात करूंगी।’


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement