आइंस्टीन और स्टीफन हॉकिंग से ज्यादा तेज है 11 साल का अर्णव

Updated on 2 Jul, 2017 at 4:49 pm

Advertisement

ब्रिटेन में 11 वर्षीय भारतीय मूल का छात्र मेन्सा आईक्यू टेस्ट में सर्वाधिक 162 अंक हासिल कर सबसे ज्यादा बुद्धिमान बच्चा बन गया है। उसने महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइंस्टीन और स्टीफन हॉकिंग से दो अंक अधिक प्राप्त किए हैं।

भारतीय मूल के अर्णव शर्मा टेस्ट पास कर ब्रिटेन का सबसे तेज लड़का बन गया है। दक्षिण इंग्लैंड में रीडिंग टाउन के अर्णव शर्मा ने बिना किसी तैयारी के कुछ सप्ताह पहले सबसे मुश्किल टेस्ट के लिए मशहूर मेन्सा आईक्यू टेस्ट को पास किया और उसने इससे पहले कभी इस टेस्ट को नहीं दिया था। अखबार के मुताबिक़ टेस्ट में उसके अंक उसे आईक्यू स्तर पर देश में अव्वल स्थान पर रखते हैं।


Advertisement

शर्मा ने कहा, मेन्सा टेस्ट मुश्किल होता है और कई लोग इसे पास नहीं कर पाते। मुझे तो इसे पास करने की उम्मीद नहीं थी। मैंने यह टेस्ट दिया और इसमें करीब ढाई घंटे लगे।

अर्णव की मां मीशा धमिजा शर्मा ने कहा, मैं सोच रही थी कि क्या चल रहा होगा क्योंकि उसने कभी देखा नहीं था कि यह पेपर कैसा होता है। उन्होंने कहा कि जब वह ढाई साल का हुआ तो मुझे उसके मैथ्स के कौशल के बारे में पता चल गया था। शर्मा को गाने और डांस करने का भी जुनून है और वह जब आठ साल का था तो बॉलीवुड डांस करके वह रीडिंग्स गॉट टैलेंट के सेमीफाइनल में भी पहुंचा था।

मेन्सा दुनिया की सबसे बड़ी और पुरानी उच्च आईक्यू सोसायटी है। वैज्ञानिक एवं वकील लांसलॉट लियोनेल वेयर और ऑस्ट्रेलियाई बैरिस्टर रोलैंड बेरिल ने 1946 में ऑक्सफोर्ड में इसकी स्थापना की थी।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement