भारतीय नौसेना दिवस: जब 1971 के ऐतिहासिक युद्ध में इंडियन नेवी ने पाकिस्तान को किया था पस्त

author image
Updated on 4 Dec, 2016 at 2:16 pm

Advertisement

भारतीय नौसेना दिवस का इतिहास वर्ष 1971 के ऐतिहासिक भारत और पाकिस्तान युद्ध से जुड़ा है। साल 1971 में 4 दिसम्बर को भारतीय नौसेना ने पाकिस्तान के खिलाफ ऑपरेशन ट्राइडेन्ट शुरू किया था।

यह अभियान पाकिस्तान नौसेना के मुख्यालय को निशाने पर लेकर शुरू किया गया, जो कराची में स्थित था।

कराची में रात को हमला बोलने की योजना बनाई गई, क्योंकि पाकिस्तान के पास ऐसे विमानों का जखीरा नहीं था जो रात में हमला करने में सक्षम हो।

भारत की कार्रवाई में तीन मिसाइल बोट, दो एंटी-सबमरीन और टैंकर शामिल थे।



इस जंग में भारत का कोई जवान शहीद नहीं हुआ, जबकि पाकिस्तान के पांच नौसैनिक मारे गए और 700 से ज्यादा घायल हुए। साथ ही युद्ध के दौरान भारतीय नौसेना ने पाकिस्तान के तीन जहाज नष्ट कर दिए थे।

भारत ने पाकिस्तान को करारी शिकस्त देते हुए न केवल जीत हासिल की, बल्कि अपने इस ऑपरेशन की शुरुआत कर नौसेना ने पूर्वी पाकिस्तान को स्वतंत्र करवाकर स्वायत्त राष्ट्र बांग्लादेश का दर्जा दिलवाने में मुख्य योगदान दिया।

भारतीय नौसेना के इस गौरवमयी इतिहास की याद में हर साल 4 दिसंबर को नौसेना दिवस के रूप में मनाया जाता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement