बम्बई, कलकत्ता और मद्रास हाईकोर्ट के नाम बदले जाएंगे

author image
Updated on 5 Jul, 2016 at 8:59 pm

Advertisement

बम्बई, कलकत्ता और मद्रास हाईकोर्ट के नाम बदलने के प्रस्ताव को मंगलवार को केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने मंजूरी दे दी है। अब इनके नाम बदल कर मुंबई, कोलकाता और चेन्नई हाईकोर्ट कर दिए जाएंगे।

इस रिपोर्ट में केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद के हवाले से बताया गया है कि कलकत्ता हाईकोर्ट का नाम अब कोलकाता हाईकोर्ट होगा, बॉम्बे हाईकोर्ट का नाम अब मुंबई हाईकोर्ट होगा और मद्रास हाईकोर्ट का नाम चेन्नई हाईकोर्ट होगा।

कलकत्ता हाईकोर्ट भारत का सबसे पुराना न्यायालय है। इसकी शुरुआत औपचारिक तौर पर एक जुलाई 1862 को हुई थी। जबकि बम्बई हाईकोर्ट की स्थापना 4 अगस्त 1862 को व मद्रास हाईकोर्ट की स्थापना 15 अगस्त 1862 को की गई थी।

गौरतलब है कि वर्ष 1861 के ‘भारतीय उच्च न्यायालय अधिनियम’ ने इंग्लैंड की महारानी को कलकत्ता, मद्रास और बम्बई के उच्च न्यायालय स्थापित करने के लेटर्स पेटेंट जारी करने के अधिकार दिए थे।

इन हाईकोर्ट के नाम बदले जाने के बाद ट्वीटर पर लोग कुछ इस तरह अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement