जल्द अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं ये 3 भारतीय क्रिकेटर

author image
Updated on 23 Aug, 2018 at 4:22 pm

Advertisement

क्रिकेट में इस कदर स्पर्धा बढ़ चुकी है कि अगर किसी का प्रदर्शन ठीक नहीं रहता तो उसकी जगह अन्य चेहरे को मौका दिया जाता है। भारतीय क्रिकेट टीम में कई ऐसे चेहरे रहे हैं, जिन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने खेल का लोहा मनवाया, कई रिकॉर्ड अपने नाम किए, लेकिन आज वो अपने प्रदर्शन की वजह से लम्बे समय से टीम इंडिया से बाहर हैं। आज हम उन भारतीय खिलाड़ियों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिनका मौजूदा टीम इंडिया में जगह बना पाना मुश्किल लग रहा है। कयास हैं कि ये खिलाड़ी आने वाली एशिया कप क्रिकेट के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं।

 

हरभजन सिंह

 

इसमें कोई दोराय नहीं कि टेस्ट क्रिकेट में भारत के सबसे सफल ऑफ स्पिनर्स में से एक भज्जी हैं। भज्जी के नाम 417 टेस्ट विकेट हैं और इस मामले में फिलहाल कोई भी भारतीय ऑफ स्पिनर उनके आस-पास भी नहीं है।

हालांकि, वह लंबे समय से टीम से बाहर चल रहे हैं। हरभजन सिंह ने अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच 2016 में खेला था। यूएई के खिलाफ भज्जी ने भारत के लिए T-20 मैच खेला और उसके बाद से उनसे अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का मौका नहीं मिला है। इस साल उन्होंने आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से खेलते हुए जरूर अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन अश्विन, कुलदीप यादव, और युजवेंद्र चहल की मौजूदगी में उनका अब टीम में वापसी कर पाना मुश्किल लगता है। इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि 37 साल के हरभजन सिंह जल्द क्रिकेट से संन्यास ले सकते हैं।

 

युवराज सिंह


Advertisement

 

टीम इंडिया के ‘सिक्सर किंग’ युवराज सिंह ने अपने दम पर कई मैच भारत को जिताए हैं। 2011 में वर्ल्ड कप अपने नाम करने वाली भारतीय क्रिकेट टीम में इस खिलाड़ी का अहम योगदान रहा। युवराज इस वर्ल्ड कप टूर्नामेंट के ‘मैन ऑफ द टूर्नामेंट’ रहे। हालांकि, इस टूर्नामेंट के बाद वह कैंसर की चपेट में आ गए। फिर इस गंभीर बीमारी को मात देकर युवराज सिंह ने एक बार फिर बल्ला थामा और क्रिकेट के मैदान पर वापसी की। लोगों ने उन्हें प्रोत्साहन दिया और उनकी सराहना की, लेकिन अक्सर वह टीम से अंदर-बाहर होते रहे।

श्रीलंका दौरे से पहले हुए यो-यो टेस्ट में वह अपनी खराब फिटनेस की वजह से टीम इंडिया में जगह नहीं बना पाए। हालांकि, युवराज दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले अपनी फिटनेस साबित करने में कामयाब हुए, लेकिन उन्हें भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया। इस साल के आईपीएल में भी युवराज का बल्ला नहीं चला। ज्यादातर मैचो में वह प्लेयिंग 11 का हिस्सा भी नहीं थे। ऐसे में एशिया कप में भी 36 वर्षीय इस खिलाड़ी के खेलने के आसार कम ही नजर आ रहे हैं। शायद वह एशिया कप के बाद क्रिकेट से संन्यास का फैसला करें।

 

गौतम गंभीर

 

गौतम गंभीर लंबे समय से भारतीय टीम से बाहर हैं और उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट नवंबर 2016 में इंग्लैंड के खिलाफ राजकोट में खेला था। इस साल दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानी का जिम्मा गौतम गंभीर को सौंपा गया था, लेकिन दिल्ली की टीम कोई खास कमाल दिखा सकीं और न ही गंभीर का बल्ला चला। इसके चलते उन्होंने आईपीएल टूर्नामेंट के बीच में ही दिल्ली की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया।  36 साल के गंभीर 2011 वर्ल्ड कप फाइनल के हीरो रहे थे, लेकिन आज उनका भी टीम इंडिया में वापसी करना मुश्किल लग रहा है। इसलिए कयास लगाए जा रहे हैं कि गंभीर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement