भारतीय सेना के इन जवानों ने लाखों की संख्या में पेड़ लगाने का उठाया है बीड़ा

author image
Updated on 29 Jul, 2016 at 2:43 pm

Advertisement

एक पेड़ का मतलब एक जीवन। एक पेड़ न केवल पर्यावरण को सुंदर बनाता है, बल्कि पृथ्वी पर बसे जीव-जन्तुओं को जीवनदायी ऑक्सीजन भी देता है।

भारतीय सेना अपने ज़ज़्बे के साथ ही कुछ अनोखा करने के लिए हमेशा से जानी जाती है। इसी कड़ी में एक बेहतर इको-सिस्टम के विस्तार के लिए, भारतीय सेना की आठ इको-बटालियन पेड़ पौधे लगाने की दिशा में काम कर रही है।

भारतीय सेना के इन जवानों ने लाखों की संख्या में पेड़ लगाने का बीड़ा उठाया है। जिसके लिए मदद राशि पर्यावरण और वन मंत्रालय, और संबंधित राज्य के वन विभाग की ओर से दी जाती है।

सेना के प्रवक्ता के मुताबिक, पर्यावरण को बचाने की दिशा में उठाया जा रहा यह कदम आगे तक जाएगा।


Advertisement

सेना के इस प्रयास का एक उद्देश्य जमीन में हो रहे कटाव और लगातार बारिश की वजह से बाढ़ के खतरे से जन-जीवन को बचाना भी है।

भारतीय सेना की ओर से लोगों के बीच पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने के लिए ‘स्वच्छ और हरित भारत’ विषय पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें पर्यावरण विषय पर आधारित पेंटिंग, निबंध-लेख, गायन प्रतियोगिता आयोजित की गई।

इस साल के जून में भारतीय सेना ने मुम्बई में सरकार की पहल ‘वन महोत्सव’ 2016 के तहत वृक्षारोपण अभियान चलाया था।

2015 में उत्तराखंड में भी सेना की कुमाऊं 130 पर्यावरण वाहिनी पिथौरागढ़ ने विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर 5 जून को सिर्फ 19 मिनट में एक लाख से ज़्यादा पौधा रोपण कर अनोखा रिकोर्ड कायम किया था। इसके साथ ही पर्यावरण सरंक्षण के क्षेत्र में सेना का यह कदम लिम्का बुक्स ऑफ़ रिकॉर्ड में भी दर्ज हो गया।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement