15 साल का सूखा ख़त्म कर भारत बना जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी चैंपियन

author image
8:21 pm 18 Dec, 2016

Advertisement

जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी के ख़िताबी मुक़ाबले में भारत विश्व विख्यात बेल्जियम को हरा कर विश्व विजेता बन गया है। इस जीत के साथ ही भारत ने उस सूखे को ख़त्म कर दिया, जिसके लिए 15 साल का इंतज़ार करना पड़ा। भारत ने पहली बार 2001 में जूनियर वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया था।

लखनऊ के मेजर ध्यानचंद एस्ट्रोटर्फ़ स्टेडियम में चल रहे जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी के ख़िताबी मुक़ाबले में भारत ने बेल्ज़ियम को 2-1 से हरा कर ये जीत अपने नाम दर्ज की।

जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन बहुत ही शानदार रहा। क्वॉर्टर फ़ाइनल में स्पेन से पिछड़ने के बावजूद भारतीय टीम मैच जीतने में कामयाब हुई थी। इसके बाद सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय दल ने पेनल्टी शूट आउट में ऑस्ट्रेलिया को हराकर फ़ाइनल में प्रवेश किया था।

भारत की जूनियर टीम 15 साल बाद इस खिताब को जीतने के इरादे से मैदान में उतरी थी। मैच शुरू होने से पहले जैसा की उम्मीद की जा रही थी कि भारत और बेल्ज़ियम का मैच कांटे का होगा क्योकि दोनों टीमें आक्रामक हॉकी खेलने के लिए जानी जाती हैं। लिहाजा दर्शकों को भी एक रोमांचक मैच देखने को मिला।

भारत ने ख़िताबी मुकाबले में एक बार फिर बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए हाफ टाइम तक 2-0 की बढ़त बना कर करोड़ों भारतवासियों की उम्मीदे बढ़ा दी थी। भारत की तरफ से पहला गोल आठवें मिनट में गुरजंत सिंह ने किया वहीं 22वें मिनट में सिमरनजीत सिंह ने बेहतरीन गोल दाग कर बढ़त को दोगुना कर दिया।

15 साल बाद जूनियर वर्ल्ड कप हॉकी का ख़िताब जीतने के लिए भारतीय टीम को टॉपयैप्स टीम की तरफ से ढेरों बधाईयां।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement