स्विस बैंकों में कालाधन रखने वालों की खैर नहीं, अब खातों की जानकारी भारत को मिलेगी

author image
Updated on 17 Jun, 2017 at 12:50 pm

Advertisement

विदेशी बैंकों में कालाधन रखकर चैन से सोने वालों की नींद इस खबर को सुनकर उड़ने वाली है। अबतक स्विस बैंकों में अपनी काली कमाई रखने वालों की जानकारी अब खुद ब खुद भारत सरकार के पास आ जाएगी।

स्विट्जरलैंड ने भारत के नागरिकों के वित्तीय खातों और कालेधन से जुड़ी जानकारी को साझा करने की मंजूरी दे दी है।

भारत समेत स्विट्जरलैंड 40 अन्य देशों को भी कालेधन वालों की जानकारी देगा। ऐसे में अब इन देशों को कालेधन से जुड़ी जानकारी ऑटोमैटिक साझा हो सकेगी। हालांकि, इसके लिए इन देशों को गोपनीयता और सूचना की सुरक्षा के कड़े नियमों का पालन करना होगा।



स्विट्जरलैंड सरकार ने इस व्यवस्था को साल 2018 से शुरू करने का फैसला किया है। इसके बाद साल 2019 से स्विस सरकार कालेधन वालों का डाटा साझा करना शुरू कर देगी।

bank


Advertisement

कालाधन भारत में एक बड़ा मुद्दा है। ऐसा माना जाता है कि बहुत से भारतीयों ने अपनी काली कमाई स्विट्जरलैंड के बैंकों में जमा कर रखी है। अब स्विट्जरलैंड के इस कदम के बाद उम्मीद जताई जा रही है कि कालेधन पर शिकंजा कस सकेगा।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement