अब महिलाएं भी उड़ा सकेंगी फाइटर प्लेन्स, युद्ध में शामिल होने की मिलेगी अनुमति

author image
Updated on 22 Jun, 2016 at 6:47 pm

Advertisement

अब महिलाएं न केवल युद्धक विमान उड़ा सकेंगी, बल्कि उन्हें युद्ध में शामिल होने की अनुमति भी दी जाएगी। अगले 18 जून को तीन कैडेट वाला महिला फाइटर पायलट्स का पहला बैच भारतीय वायुसेना में शामिल किया जाएगा।

विमेन इन आर्म्ड मेडिकल कोर्प्स पर आयोजित एक सम्मेलन के दौरान एयर चीफ मार्शल अरुप राहा ने सार्वजनिक रूप से इसकी जानकारी देते हुए कहा-

“हमने 1991 में महिलाओं को वायुसेना में पायलटों के रूप में शामिल किया था, लेकिन यह नियुक्ति केवल हेलिकॉप्टर और ट्रांसपोर्ट विमानों तक ही सीमित थी। मैं रक्षामंत्री को धन्यवाद देना चाहूंगा कि उन्होंने महिलाओं को भी फाइटर पायलट के तौर पर भर्ती किए जाने के भारतीय वायुसेना के प्रस्ताव को मंजूरी दी। बहुत जल्द यानी 18 जून को वायुसेना को महिला फाइटर पायलट्स मिल जाएंगी।”


Advertisement

इस सम्मेलन में देश के रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर भी उपस्थित थे। जिसमें उन्होंने भारतीय वायु सेना में महिला फाइटर पायलटों के शामिल होने की प्रशंसा करते हुए कहा-

“भले ही मैंने इस प्रस्ताव का समर्थन किया और इसे मंजूरी दी, लेकिन वह साहा थे जिन्होंने रक्षा मंत्रालय के स्तर पर फाइल को आगे बढ़ाने के लिए लगातार जोर दिया। यह पहल न केवल सशस्त्र चिकित्सीय कोर में बल्कि वर्दी में सभी महिलाओं की भूमिका निर्धारित करने में अहम भूमिका निभाएगी।”

गौरतलब है कि रक्षा मंत्रालय ने भारतीय वायुसेना में महिला फाइटर पायलट शामिल करने के प्रस्ताव को पिछले साल अक्टूबर में हरी झंडी दी थी।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement