इस हाईटेक अमेरिकी ड्रोन से बढ़ेगी भारत की सामरिक ताकत, सुरक्षित होंगे समुद्री इलाके

author image
Updated on 7 Sep, 2016 at 5:52 pm

Advertisement

भारत को जल्द ही अमेरिका से हाईटेक मल्टी-मिशन ड्रोन्स मिल सकते हैं। इससे न केवल भारत की सामरिक ताकत में इजाफा होगा, बल्कि समुद्री इलाके भी सुरिक्षित किए जा सकेंगे।

माना जाता है कि इसी तरह के एक ड्रोन से अमेरिकी सेना ने इस्लामिक स्टेट के कुख्यात आतंकवादी जिहादी जॉन को मार गिराया था।

यह ड्रोन 50 हजार फुट की ऊंचाई से निगरानी करने में सक्षम होंगे। ये समुद्र में होने वाली हलचल को बहुत नजदीक से पकड़ सकते हैं। यहां तक कि फुटबॉल सऱीखे छोटे निशाने पर इनसे बच नहीं सकते। चार AGM-114 हेलफायर मिसाइल ले जाने वाले ये ड्रोन लगातार 24 घंटे तक उड़ान भर सकते हैं।

भारत ने इसी साल जून महीने में अमेरिका का स्ट्रैटजिक डिफेन्स पार्टनर बनकर नई शुरुआत की है। इससे पहले फरवरी महीने में भारतीय नौसेना की तरफ से अमेरिकी रक्षा विभाग को 22 ड्रोन खरीदने के लिए एक चिट्ठी लिखी गई थी।

अमेरिका के साथ हालिया डिफेन्स डील होने की वजह से माना जा रहा है कि भारत को ये हाईटेक मल्टी-मिशन ड्रोन्स राष्ट्रपति बराक ओबामा के व्हाइट हाउस छोड़ने से पहले ही मिल जाएंगे।


Advertisement

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि इस संबंध में भारतीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने अमेरिकी रक्षा मंत्री एश्टन कार्टर के साथ अपने स्तर पर बातचीत शुरू की है। पिछले सप्ताह पर्रिकर अमेरिका में थे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement