लापता एएन-32 विमान का अब तक कोई सुराग नहीं, भारत ने जांच में अमेरिका से मांगी मदद

author image
Updated on 30 Jul, 2016 at 1:38 pm

Advertisement

भारतीय वायुसेना के हफ्ते भर से लापता विमान एएन-32 का अबतक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। इसकी जानकारी देते हुए संसद में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा कि भारत सरकार ने विमान की तलाश के लिए अमेरिका से मदद मांगी है।

भारत ने अमेरिका से मदद मांगते हुए कहा है कि अगर उनके सैटेलाइट्स में 22 जुलाई को विमान से जुड़ा कोई संकेत दर्ज हुआ या नहीं। आपको बता दें कि 22 जुलाई को ही 29 लोगों को ले जा रहा यह विमान लापता हुआ था।

AN-32

एएन-32 विमान की फाइल फोटो

रक्षामंत्री ने कहा कि विमान की हाल में विस्तृत रूप से मरम्मत की गई थी। विमान में किसी तरह की कोई गड़बड़ी हुई होगी, इसकी आशंका कम है।

विमान से किसी तरह का कोई सन्देश या कोई फ्रीक्वेंसी दर्ज नहीं की गई। रक्षा मंत्री ने कहा कि यह बस अचानक से लापता हो गया और यही चिंता की सबसे बड़ी बात है। उन्होंने कहा:


Advertisement

“मैं सदस्यों की परेशानी को समझ सकता हूं। मैं भी विमान के अचानक गायब हो जाने से परेशान हूं।  मैंने कई विशेषज्ञों और पूर्व वायुसेना प्रमुखों से बात की है और वे भी अचानक गायब हो जाने से हैरत में हैं।”

Manohar Parrikar

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर

विमान के सर्च अभियान में वायुसेना, नेवी और कोस्ट गार्ड लगे हुए हैं। अभी तक बचाव दल को विमान का कोई सुराग हाथ लगने में सफलता हासिल नहीं हुई है।

जहां तक अमेरिकी उपग्रहों का सवाल है, पर्रिकर ने इस पर कहा कि उसमें भी शायद किसी तरह के सिग्नल्स दर्ज नहीं किए गए, क्योंकि उस दिन गहरे बादल थे। उन्होंने कहा:

‘हम उम्मीद कर रहे हैं कि हम इसका पता लगा लेंगे। मैं आपको आश्वस्त कर रहा हूं कि अधिकतम प्रयास किये जाएंगे। रडार पर एक भी सिग्नल रिकार्ड नहीं किया गया। हम अमेरिकी रक्षा बलों से संपर्क करने का प्रयास कर रहे हैं कि क्या उनके उपग्रहों में कोई सिग्नल पकड़ा है। उस दिन गहरे बादल थे।’

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement