Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

पाकिस्तान सीमा पर 5 स्तरीय सुरक्षा को मंजूरी, एक भी आतंकी नहीं कर सकेगा घुसपैठ

Updated on 11 July, 2016 at 1:30 am By

पठानकोट हमले से सबक लेते हुए भारत ने पाकिस्तान से घुसपैठ कर रहे आतंकियों से निपटने के लिए एक ठोस रणनीति तैयार की है। इस रणनीति के तहत मोदी सरकार ने पाकिस्तान के साथ लगी भारत की 2900 किलोमीटर लंबी पश्चिमी सीमा की सुरक्षा को और मजबूत करने की योजना को मंजूरी दे दी है।

India-Pakistan


Advertisement

इस योजना के अंतर्गत सीमा पर पांच स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की जाएगी। एक अंग्रेजी अखबार के मुताबिक, इस योजना के अमल में आते ही 24 घंटे बेहद आधुनिक और उन्नत तकनीक के जरिए सीमा की निगरानी की जाएगी।

इसके तहत, 2900 किलोमीटर लंबे बॉर्डर को पूरी तरह से लॉक कर दिया जाएगा। इसका मकसद पश्चिमी सीमा से घुसपैठ को पूरी तरह रोकना है।

Border

एक रिपोर्ट के मुताबिक, केंद्र सरकार की इस CIBMS यानि कॉम्प्रिहेंसिव बॉर्डर मैनेजमेंट सिस्टम तकनीक के जरिए पूरे साल 24 घंटे सीमा की निगरानी कर पाना संभव होगा।

गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजू ने सीमा पर 5 स्तरीय सुरक्षा को मंजूरी दिए जाने की पुष्टि करते हुए कहाः



“भारत-पाकिस्तान की सीमा में कुछ जगह ऐसी हैं, जहां से घुसपैठ की संभावना रहती है। ऐसे में इन जगहों को पूरी तरह से सुरक्षा देना सरकार का काम है। इसलिए नई-नई तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसमें सीसीटीवी कैमरा और थर्मल इमेज अंडर ग्राउंड मॉनिटरिंग सेंसर शामिल हैं।”

सरकार की यह योजना बेहद खर्चीली है, लेकिन इसे लेकर सरकार का कहना है कि पठानकोट जैसे हमलों, घुसपैठ, तस्करी की घटनाओं को नाकाम करने के लिए यह सबसे बेहतर उपाय है।

Border

घुसपैठ रोकने के उद्येश्य से 130 लेजर बैरियर्स भी लगाए जाएंगे। इन लेजर बैरियर्स को वहां लगाया जाएगा, जहां फेंसिंग नहीं हुई है। इसमें जम्मू-कश्मीर की पहाडियां और नदी वाले इलाकों से लेकर गुजरात तक के हिस्से हैं, जहां से घुसपैठ की गतिविधियां सबसे ज़्यादा होती हैं।

border

गौरतलब है कि पाकिस्तान से आतंकियों की घुसपैठ, सीमा सुरक्षा का मुद्दा हमेशा से ही भारत के लिए चिन्ता का विषय रहा है।


Advertisement

इस योजना की मदद से आतंकियों की घुसपैठ पर केवल निगरानी रख पाना संभव ही नहीं होगा, बल्कि ऐसे लोगों पर भी नज़र बनाना आसान होगा, जो आतंकियों की घुसपैठ में मदद करते है।

Advertisement

नई कहानियां

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए

क्रिएटीविटी की इंतहा हैं ये फ़ोटोज़, देखकर सिर चकरा जाए


G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!

G-spot को भूल जाइए, ऑर्गेज़्म के लिए अब फ़ोकस करिए A-spot पर!


Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा

Eva Ekeblad: जिनकी आलू से की गई अनोखी खोज ने, कई लोगों का पेट भरा


Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी

Charles Macintosh ने किया था रेनकोट का आविष्कार, कभी किया करते थे क्लर्क की नौकरी


जानिए क्या है Google’s Birthday Surprise Spinner, बच्चों से लेकर बड़ों में है इसका क्रेज़

जानिए क्या है Google’s Birthday Surprise Spinner, बच्चों से लेकर बड़ों में है इसका क्रेज़


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Military

नेट पर पॉप्युलर