रहने के लिए भारत से बेहतर कोई देश नहीं है, ये हैं 6 मूल कारण

Updated on 28 Jun, 2018 at 1:24 pm

Advertisement

भारत वाकई बेस्ट है। ईस्ट ऑर वेस्ट। इंडिया इज द बेस्ट। हमारे देश में इतनी विविधताएं हैं कि बाहर से आने वालों को भी जीवन के ढेरों रंग दिखते हैं। खान-पान से लेकर पहनावे तक के ढेरों विकल्प हैं हमारे देश में। बाकी दुनिया के मुकाबले रहने के लिए भारत बेहतर जगह है और इसकी तमाम वजहें हैं। तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था के साथ ही अनेक धर्मों का साथ और संयुक्त परिवार का ढांचा सिर्फ भारत में ही आपको दिखेगा। चलिए आपको बताते हैं कि क्यों रहने के लिए सबसे बेहतर देश भारत है।

 

भारत बेस्ट है, जानिए क्यों।

 

1. मुंह में पानी लाने वाला ज़ायका

 


Advertisement

भारतीय खाने की बात ही निराली है, तभी तो विदेश जाने वाले भारतीय सबसे ज़्यादा यहां का खाना ही मिस करते हैं। भारत में खाने की जितनी वैरायटी मिलती है, उतनी पूरी दुनिया में कहीं नहीं है। यहां हर राज्य का अपना अलग ज़ायगा है। वेज से लेकर नॉनवेज तक सब कुछ बेहद लजीज़ होता है। आपके लिए ये तय कर पाना मुश्किल हो जाता है कि कौन सा व्यंजन सबसे स्वादिष्ट है। वैसे तो दुनिया के हर कोने में आपको भारतीय रेस्टोरेंट मिल जाएंगे, मगर वहां देश वाला स्वाद नहीं आता।

 

भारत (India)

 

2. सैलानियों के लिए जन्नत से कम नहीं

 

घूमने के शौकीन लोगों के लिए भारत किसी जन्नत से कम नहीं है। सैलानियों के लिहाज से भी सबसे बेहतर देश भारत है। रेगिस्तान से लेकर गहरे समुद्र और ऊंचे-ऊंचे पहाड़ यहां आपको हर तरह की जगह मिल जाएगी। भारत की कुछ जगहें इतनी सुंदर है कि वहां जाकर आप विदेश जाने का सपना छोड़ देंगे। 2017 में यूएस न्यूज़ और वर्ल्ड रिपोर्ट के मुताबिक ऐतिहासिक महत्व के हिसाब से भारत का स्थान पूरे विश्व में छठा है।

 

भारत (India)

 

3. जीवन यापन सस्ता है

 

लग्ज़री लाइफ को छोड़ दें तो भारत में रहना बाकी देशों के मुकाबले सस्ता है। बहुत से लोग भले ही इस बात से तस्दीक न रखें, लेकिन भारत गरीबों के रहने के लिए बेहतरीन जगह है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, घरेलू बाज़ार, विकसित अर्थव्यवस्था और सस्ती मजदूरी की वजह से भारत दुनिया के बाकी देशों के मुकाबले सस्ता है। हालांकि, जीवनयापन की लागत देश के अलग-अलग हिस्सों में अलग है, क्योंकि रियल स्टेट सेक्टर की वजह से संपत्ति की कीमत हर शहर में अलग हैं।

 

भारत (India)



 

4. भारत में सस्ती शिक्षा

 

भले ही गुणवता के मामले में शिक्षा सही न हो, लेकिन जहां तक पैसों का सवाल है तो यहां शिक्षा सस्ती है। यहां तक की भारत के प्रतिष्ठित संस्थानों में पढ़ना भी बाकी देशों के मुकाबले सस्ता है। एक अध्ययन के मुताबिक, भारत में विश्वविद्यालय में पढ़ाई का सालाना खर्च 3.25 लाख है, जबकि इसी स्तर की पढ़ाई के लिए ऑस्ट्रेलिया में 20.43 लाख खर्च करने पड़ते हैं।

 

भारत (India)

 

5. सस्ती और गुणवतापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं

 

विकसित देशों में स्वास्थ्य सेवाओं का खर्च भी ज़्यादा है। महंगी होने की वजह से ये गरीबों की पहुंच से बाहर हैं। शायद इसी वजह से कई विदेशी इलाज के लिए भारत आना पसंद करते हैं। यहां वैश्विक स्तर की स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हैं और वो भी किफायती कीमत पर। मसलन हार्ट बाईपास सर्जरी के लिए भारत में जहां 4 लाख रुपए लगते हैं। वहीं इसके लिए अमेरिका में आपको 1 करोड़ रुपए खर्च करना होगा।

 

भारत (India)

 

6. भारत में निवेश की अपार संभावनाएं

 

उच्च विकास दर और बड़ा बाज़ार होने की वजह से निवेशकों के लिए भी भारत बेस्ट जगह है। विदेशी भारतीय स्टॉक मार्केट में निवेश करने के भी इच्छुक होते है। 2017 में सेबी के एक सर्वे के मुताबिक शेयर में सिर्फ एक प्रतिशत भारतीय ही निवेश करते हैं, जबकि अमेरिका की आधी आबादी ने शेयर मार्केट में निवेश किया हुआ है। बढ़ते बाज़ार की वजह से भविष्य में भी निवेशको के लिए भारत अच्छा विकल्प रहेगा।

 

भारत (India)


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement