महिला की इज्ज़त पर हमला हुआ और सजा भी महिला को ही मिली !

Updated on 6 Sep, 2017 at 7:36 pm

महिला सुरक्षा के मामले में दिल्ली देश का सबसे असुरक्षित शहर बन गया है। महिलाओं के साथ हिंसा और बलात्कार की घटना थमने का नाम नहीं ले रही है। मामला एयरोसिटी इलाके के एक फ़ाइव स्‍टार होटल का है, जहां महिला से छेड़खानी की घटना में आरोपी की जगह महिला को ही नौकरी से निकाल दिया गया।

Twitter

छेड़खानी की सीसीटीवी फुटेज भी बरामद हुई है, जिसमें आरोपी साफ़-साफ़ दिख रहा है। फुटेज में होटल कर्मचारी अपनी महिला सहकर्मी के साथ छेड़छाड़ करता नजर आ रहा है। बताया जा रहा है कि छेड़छाड़ करनेवाला होटल का सिक्योरिटी मैनेजर पवन दहिया है जो गेस्ट रिलेशन में काम करने वाली महिला के साथ जबरदस्ती करते हुए पाया गया है। वह महिला की साड़ी का पल्लू खींचकर उसके कपड़े उतारने की कोशिश कर रहा है।

Twitter

पीड़िता का कहना हैः

“आरोपी पवन कई महीनों से उसके पीछे पड़ा था और उससे सम्बन्ध बनाने के लिए दबाव बना रहा था। 29 जुलाई को अपने बर्थडे के दिन पवन ने पीड़िता को कमरे में बुलाया और मनपसंद गिफ़्ट दिलाने का प्रलोभन देने लगा। पीड़िता ने जब मना किया तो पवन ने उसकी साड़ी खींचनी शुरू कर दी। इस दौरान ही पवन के कमरे में होटल का एक और कर्मचारी आ गया और मौका पाकर पीड़ित महिला कमरे से बाहर चली गई।”



इस घटना के बाद भी पवन ने महिला को अपनी कार में जबरदस्ती बैठाने की कोशिश करने लगा। मगर पीड़िता जैसे-तैसे पीछा छुड़ाकर एयरोसिटी मेट्रो स्टेशन पहुंची। उसने छेड़छाड़ की शिकायत होटल प्रबंधन को दे दी साथ ही पुलिस में शिकायत दर्ज कराया।

हैरत की बात ये है कि होटल प्रबंधन ने आनन-फानन में महिला को नौकरी से निकाल दिया। साथ ही सीसीटीवी फुटेज देने वाले कर्मचारी को भी अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ गया। हालांकि, पुलिस ने आरोपी को तुरंत गिरफ़्तार कर लिया जिसे अदालत में पेशी के बाद ज़मानत मिल गई।

Twitter

गौरतलब है कि महिलाओं को ही ऐसी घटनाओं में सबसे ज्यादा भुगतना पड़ता है। उसी के साथ जबरदस्ती हुई और उसे ही नौकरी गंवानी पड़ी। यही कारण है कि इस तरह के ज्यादातर मामले कम ही सामने आ पाते हैं। ऐसे में महिला सुरक्षा को सुनिश्चित करना सरकार और पुलिस महकमे के लिए भी चुनौतीपूर्ण  है।

आपके विचार