Advertisement

पहनने में आरामदेह टी-शर्ट का इतिहास भी बेहद कूल है

4:04 pm 26 Jul, 2017

Advertisement

लड़के-लड़कियां सभी के आउटफिट कलेक्शन में टी-शर्ट ज़रूर होती है, क्योंकि कूल दिखने के साथ ही यह पहनने में काफी आरामदेह भी होता है। जब तैयार होते समय कुछ समझ नहीं आता है, तो झट से टी-शर्ट पहने लेते हैं, इसे सबसे सहूलियत वाला आउटफिट कहा जाए, तो ग़लत नहीं होगा। लेकिन क्या आप अपने फेवरेट टी-शर्ट का इतिहास जानते हैं?

दोस्तों के साथ पार्टी हो या बीच वेकेशन पर जाना हो, आपके बैग में टी-शर्ट ज़रूर होती है। यह इकलौता ऐसा कपड़ा है, जिसे कभी भी, कहीं भी पहना जा सकता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि टी-शर्ट की खोज 19वीं सदी की शुरुआत में हुई थी, पर उस समय इसे इनरवेयर की तरह पहना जाता था। अधिकतर माइन में काम करने वाले और जहाज़ पर माल उतरने वाले मज़दूर इसे पहनते थे। 1898 के आस-पास स्पेन–अमेरिका युद्ध के समय भी अमेरिकी नेवी के सिपाहियों ने इसका इस्तेमाल अंडरवियर की तरह ही किया। वैसे 1913 में इसे आर्मी की ड्रेस का हिस्सा बना दिया गया था।


Advertisement

1920 के आसपास टी-शर्ट शब्द इतना पॉप्युलर हो गया था कि इसे अमेरिकन डिक्शनरी में शामिल करके इसकी परिभाषा तक लिखी गई। द्वितीय विश्व युद्ध के समय तक अमेरिका की नेवी इसका इस्तेमाल यूनिफॉर्म (अंडरवियर) की तरह ही करती थी। आम लोगों तक टी-शर्ट अमेरिकी नेवी के जवानों की बदौलत ही पहुंचा, जो इसे पहनकर पार्टी और बाज़ार जाने लगे थे।

फैशन मैगज़ीन लाइफ  ने टी-शर्ट को उस समय ट्रेंड बनाया, जब 1942 में Air Corps Gunnery स्कूल ने टी-शर्ट के कुछ खास प्रिंटेड एडिशन निकाले। 1960 में लोग प्रिंटेड T-Shirt का इस्तेमाल विरोध प्रदर्शन के दौरान करने लगे।

अब तो ये हर किसी की ज़िंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement