Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

180 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से दौड़ी स्पेन से आई टेल्गो ट्रेन, रचा इतिहास

Published on 13 July, 2016 at 6:05 pm By

स्पेन से लाई गई टेल्गो ट्रेन ने 180 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से दौड़कर इतिहास रच दिया है।

पहली बार भारत में किसी ट्रेन ने 180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ लगाई है। इस सेमी बुलेट ट्रेन का मथुरा से पलवल के बीच 84 किलोमीटर की दूरी तक का ट्रायल रन सफल रहा।


Advertisement



इसके साथ ही टेल्गो ने देश की अब तक की सबसे तेज ट्रेन गतिमान एक्सप्रेस को भी पीछे छोड़ दिया है। दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन स्टेशन से आगरा के बीच चलने वाली गतिमान एक्सप्रेस की अधिकतम गति 160 किलोमीटर प्रति घंटा है।

इस ट्रेन को दौड़ाने में भारतीय डीजल इंजन डब्ल्यूडीसी-4 का इस्तेमाल किया गया था। 84 किमी की दूरी को तय करने में इसकी गति को 8 बार कम करना पड़ा था। ट्रायल रन के लिए 9 कोच का इस्तेमाल किया गया था।

बताया गया है कि अब अगले 26 जुलाई तक इसी गति से ट्रेन का ट्रायल होगा। इसके सफल होने पर अंतिम में इसका ट्रायल दिल्ली और मुम्बई रेल रूट पर होगा।


Advertisement

गौरतलब है कि टेल्गो ट्रेन करीब 380 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकते हैं। एल्‍युमि‍नियम से बने होने के कारण ये कोच बेहद हल्के हैं और इनकी रफ्तार तेज है।

Advertisement

नई कहानियां

कभी फ़ुटपाथ पर सोता था ये शख्स, आज डिज़ाइन करता है नेताओं के कपड़े

कभी फ़ुटपाथ पर सोता था ये शख्स, आज डिज़ाइन करता है नेताओं के कपड़े


किसी प्रेरणा से कम नहीं है मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी की कहानी

किसी प्रेरणा से कम नहीं है मोटिवेशनल स्पीकर संदीप माहेश्वरी की कहानी


इस फ़िल्ममेकर के साथ काम करने को बेताब हैं तब्बू, कहा अभिनेत्री न सही, असिस्टेंट ही बना लो

इस फ़िल्ममेकर के साथ काम करने को बेताब हैं तब्बू, कहा अभिनेत्री न सही, असिस्टेंट ही बना लो


इस शख्स की ओवर स्मार्टनेस देख हंसते-हंसते पेट में दर्द न हो जाए तो कहिएगा

इस शख्स की ओवर स्मार्टनेस देख हंसते-हंसते पेट में दर्द न हो जाए तो कहिएगा


मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया

मां के बताए कोड वर्ड से बच्ची ने ख़ुद को किडनैप होने से बचाया, हर पैरेंट्स के लिए सीख है ये वाकया


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर