सूरज की तपिश से झुलसा देश, 150 से अधिक मौतें

author image
Updated on 23 Apr, 2016 at 3:07 pm

Advertisement

देशभर में भीषण गर्मी और लू के प्रकोप से 150 से अधिक लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई इलाकों में जलसंकट गहरा गया है। अान्ध्रप्रदेश और तेलंगाना में पिछले 15 दिनों में सबसे अधिक 90 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि उड़ीसा में 72 लोगों के मारे जाने के समाचार मिले हैं।

बताया गया है कि गर्मी का प्रकोप जारी रह सकता है। यही नहीं, मौसम विभाग का मानना है कि वर्ष 2016 सबसे गर्म साल साबित हो सकता है।

उड़ीसा के टिटलागढ़ में तापमान 47 डिग्री और तेलंगाना के रामागुंडम में 46 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। यह इस मौसम का सबसे अधिक तापमान है। माना जा रहा है कि अप्रैल महीने में पिछले 50 सालों में इतनी भीषण गर्मी नहीं पड़ी थी।

बढ़ते पारे की वजह से जलस्तर में कमी देखी जा रही है। केन्द्रीय जल संसाधन मंत्रालय के मुताबिक, देदेश के 91 बड़े तालाबों और जलाशयों में जलस्तर में करीब 22 फीसदी तक कमी आई है।

शुक्रवार को जारी एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 21 अप्रैल तक इन जलाशयों में 34.082 बिलियन क्यूबिक मीटर (बीसीएम) पानी बचा था।


Advertisement

जलसंकट कुछ इस तरह गहरा रहा है कि केरल सरीखे राज्य में पानी की कमी देखी जा रही है।

Advertisement

आपके विचार