40 की उम्र के बाद अपनाएं ये हेल्थ टिप्स, आप बने रहेंगे सेहतमंद

Updated on 22 Jun, 2018 at 11:11 am

Advertisement

बढ़ती उम्र के साथ हमारे शरीर में कई तरह के बदलाव होने लगते है। इस उम्र में शरीर में बहुत सी कमियां आ जातीं है। 40 वर्ष की आयु में बालों का झड़ना और हड्डियों का कमजोर होना अब आम बात हो गई है। शहरों में इस उम्र के बहुत से लोगों को हाई ब्लड प्रेशर, दिल के रोग, ब्लड शुगर और गठिया जैसी गंभीर बीमारियों की शाकियत होने लगी है। ऐसे में  ये जरूरी है कि हमारा खान-पान उम्र के मुताबिक ही हो। अगर आप भी 40 वर्ष की आयु तक पहुंच चुके हैं या पहुंचने वाले है तो खुद को सेहतमंद बनाए रखने के लिए स्वास्थ्य संबंधी  इन टिप्स  को जरूर पढ़ें।

 

प्रोटीन युक्त आहार लें

प्रोटीन युक्त आहार हमारे शरीर में क्षतिग्रस्त मांसपेशियों की मरम्मत करता है। विशेषज्ञ मानते हैं कि 40 की उम्र में आवश्यकता की कुल कैलोरी  में  20 से 35 प्रतिशत हिस्सा प्रोटीन से आना चाहिए। इससे आपकी मांसपेशियां दोबारा बनने लगती हैं। अपने खाने में मांस, मछली, अंडे, दूध, दही और हरी सब्जियों को सीमित मात्रा में लें। वहीं, इस उम्र में डॉक्टर्स और डायटीशियन्स बहुत ज्यादा तला हुआ भोजन खाने की सलाह नहीं देते।

 

 

 

मोटे अनाज का सेवन करें

40 की आयु में आपके शरीर में कई प्रकार की कमियां हो जाती हैं। शरीर में इन कमियों को पूरा करने के लिए ये सुनिश्चित करें कि आपके डाइट चार्ट में मोटा अनाज जूरूर हो। मोटा अनाज पोषक तत्वों से भरपूर होता है। मोटे अनाज को लेकर अब लोगों का नजरिया बदल चुका है, लोग अब बड़े ही शौक से ओट्स, जौ, चना, ज्वार और बाजरा खाने लगे है। मोटे अनाज में ग्लूटोन नहीं होता जो आपको मधुमेह जैसी घातक बीमारियों से  भी बचाता है।

 

 

बादाम का सेवन करें

बादाम फाइबर, प्रोटीन और हैल्दी फैट से भरपूर होता है। इसके अलावा डायबिटीज के मरीजों के लिए भी ये काफी फायदेमंद है। 40 वर्ष की उम्र के बाद हड्डियां कमजोर  होने लगती है। बादाम आपकी हड्डियों और मांसपेशियों को स्ट्रांग बनाता है। बादाम कई प्रकार की बीमारियों को रोकने में तो मदद करता ही है, साथ ही इससे बालों का झड़ना भी कम होता है।


Advertisement

 

 

मसूर की दाल

मसूर की दाल में अच्छा खासा प्रोटीन होता है, साथ ही ये आसानी से पच भी जाती है। 40 वर्ष की आयु के अधिकतर लोगों का पाचन तंत्र कमजोर होने लगता जिसकी वजह से ये दाल खाने की सलाह दी जाती है। अगर आप शाकाहारी है तो इस उम्र में दालों का सेवन आपके लिए फायदेमंद होगा।

 

दही का सेवन करें

स्वस्थ रहने के लिए ये जरूरी है हमारे शरीर में अच्छे बैक्टीरिया मौजूद हो। ऐसी चीजों का सेवन करें जिसमें अच्छे बेक्टीरिया हो। दही अच्छे बेक्टीरिया से भरपूर होता है। ये शरीर में गुड बैक्टीरिया बनाकर कई प्रकार की कमियों को दूर करता है। इसलिए रोजाना दही का सेवन करें। नमक या चीनी के बिना दही खाने से आपको अधिक लाभ होगा।

 

समय पर खाना खाएं

समय पर खाना न खाने से शरीर कमजोर होने लगता है। इसलिए ये जरूरी है कि खाना खाने के लिए आप एक निर्धारित समय तय करें। सुबह नाश्ते का समय 7 से 8 बजे के बीच होना चाहिए। वहीं दोपहार को खाना खाने का सही समय 12 से 2 बजे के बीच है। और रात को नियमित तौर पर आपको 7 से 9 बजे के बीच खाना खा लेना चाहिए। अगर आप नियमित तौर पर इन समय पर खाना खाते हैं, तो बढ़ती उम्र में भी सेहतमंद बने रहेंगे।

 

 

कच्ची सब्जियों और फलों का करें सेवन

अगर आप बढ़ती उम्र के साथ सेहतमंद बने रहना चाहते हैं तो अपनी खुराक में कच्चे फलों और सब्जियों को जरूर शामिल करें। ये आपके भोजन को पचाने में भी मदद करते हैं। कच्ची सब्जियों और फलों में जरूरी पोषक तत्व होते है, जिससे आपके शरीर को भरपूर पोषण मिलता रहता है।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement