Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

भारत का पहला जीवित तंत्र है गंगा, हाईकोर्ट का फैसला

Updated on 22 March, 2017 at 11:36 am By

एक अभूतपूर्व फैसले में उत्‍तराखंड की नैनीताल हाईकोर्ट ने गंगा नदी को भारत के पहले जीवित तंत्र के रूप में मान्‍यता दी है। हाईकोर्ट का कहना है कि भारत की पौराणिक नदियों गंगा और यमुना को एक मान की तरह संविधान की तरफ से मुहैया कराए गए सभी अधिकार सुनिश्चित किए जाने चाहिएं।



सर्वविदित है कि गंगा नदी भारत की सबसे महत्वपूर्ण पौराणिक नदी है। यह हिमालय से निकलकर भारत के मैदानी इलाकों से होते हुए बंगाल की खाड़ी में मिलती है।

इससे पहले गंगा नदी को संरक्षित करने के उद्येश्य से इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी महत्वपूर्ण फैसले दिए थे। हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड सरकार को गंगा के आसपास पॉलिथीन, प्लास्टिक को प्रतिबंधित करने का आदेश जारी किया था। साथ ही गंगा में पर्याप्त पानी छोड़ने के लिए कहा था।


Advertisement

फिलहाल केन्द्र सरकार गंगा नदी को स्वच्छ बनाने के लिए नमामि गंगे नामक परियोजना पर काम कर रही है। इससे पहले गंगा को प्रदूषण मुक्त करने पर करीब 30 हजार रुपए खर्च किए जा चुके हैं।

Advertisement

नई कहानियां

सोशल मीडिया पर छाया ये सेक्सी ‘आइसक्रीम मैन’, वायरल हुआ वीडियो

सोशल मीडिया पर छाया ये सेक्सी ‘आइसक्रीम मैन’, वायरल हुआ वीडियो


तो इसलिए देश के सबसे बड़े टैक्सपेयर हैं अक्षय कुमार? रितेश देशमुख ने बताई वजह

तो इसलिए देश के सबसे बड़े टैक्सपेयर हैं अक्षय कुमार? रितेश देशमुख ने बताई वजह


टैटू की दीवानगी में इस लड़की ने बना डाला रिकॉर्ड, दोस्त कहते थे पागल

टैटू की दीवानगी में इस लड़की ने बना डाला रिकॉर्ड, दोस्त कहते थे पागल


गेमिंग वर्ल्ड में कदम रखने की तैयारी में Snapchat!

गेमिंग वर्ल्ड में कदम रखने की तैयारी में Snapchat!


अमित भड़ाना: वकालत की पढ़ाई की, लेकिन दिल की सुनी और बने गए यूट्यूब स्टार

अमित भड़ाना: वकालत की पढ़ाई की, लेकिन दिल की सुनी और बने गए यूट्यूब स्टार


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर