हरियाणा के स्कूलों में अब शिक्षक नहीं पहन सकेंगे जींस, जानिए क्यों !

author image
Updated on 11 Jun, 2016 at 6:19 pm

Advertisement

हरियाणा के स्कूलों में अब शिक्षक जींस नहीं पहन सकेंगे। यह फैसला तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है, वहीं इसका विरोध भी शुरू हो गया है।

बताया गया है कि हरियाणा में लंबे समय से शिक्षकों द्वारा छात्राओं के साथ छेड़छाड़ की शिकायतें मिल रहीं थीं। इसके बाद ही सरकार ने इस तरह का निर्णय लिया है।

शिक्षा विभाग को इस तरह की सूचनाएं भी मिलीं थीं कि शिक्षक कटी-फटी जींस पहनकर पढ़ाई करवाते हैं। छात्रों और छात्राओं पर इसका गलत असर पड़ रहा था।

हरियाणा के शिक्षा विभाग के निदेशक ने इस संबंध में आदेश जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि शिक्षक अगर शिक्षा निदेशालय में भी आते हैं तो वह जींस पहनकर नहीं आएं।


Advertisement

हरियाणा शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी.के. दास ने कहाः

“अध्यापक विद्यार्थी का दर्पण होता है। सरकार का प्रयास है कि शिक्षकों को सही मायने में छात्रों का रोल मॉडल बनाया जाए। इस फैसले को लागू करने के लिए अफसरों की बैठक बुलाई गई है।”

राज्य सरकार के इस आदेश का विरोध भी शुरू हो गया है।

हरियाणा राजकीय अध्यापक संघ के प्रदेशाध्यक्ष प्रदीप सरीन ने कहा कि यह शिक्षकों के लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन है। उन्होंने कहा कि जींस आपत्ति करने लायक ड्रेस नहीं है। वहीं, कई शिक्षाविदों ने भी इस फैसले पर कड़ी आपत्ति जताई है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement