बदल रहा है हरियाणा, हार्वड से शिक्षित युक्ति चौधरी बनीं जिला पार्षद

author image
Updated on 3 Feb, 2016 at 3:29 pm

Advertisement

हरियाणा बदल रहा है। हार्वर्ड विश्वविद्यालय से शिक्षित 27-वर्षीया युक्ति चौधरी जिला पार्षद चुनी गईं हैं।

खाप पंचायत के विवादित निर्णयों को लेकर हमेशा चर्चा में रहे इस प्रदेश में युक्ति का जिला पार्षद के रूप में चुना जाना ऐतिहासिक है। हाल ही में यहां खाप पंचायत ने दो लड़कियों के बाद तीसरी संतान पर रोक लगाने का आदेश जारी किया था।

युक्ति ने हार्वर्ड लॉ स्कूल से अन्तर्राष्ट्रीय मानवधिकार विषय में LLM की डिग्री ली है। उन्होंने स्नातक की पढ़ाई दिल्ली विश्वविद्यालय से की है।

फतेहाबाद जिला परिषद के जोन-5 से 35 मतों से जीतने वाली युक्ति का मानना है कि उच्च शिक्षा की वजह से उन्हें सरकार की नीतियों और उनके बेहतर क्रियान्वयन करने में मदद मिलेगी।

युक्ति कहती हैंः

निश्चित तौर पर उच्च शिक्षा से सरकार की नीतियों को समझने और उनके बेहतर क्रियान्वयन करने में मदद मिलेगी।


Advertisement

जिला पार्षद के रूप में तात्कालिक चुनौतियों का जिक्र करते हुए युक्ति का कहना हैः

पेयजल की समस्या विकराल है। किसी निर्णय पर पहुंचने से पहले मैं 9 गांवों का दौरा करने की योजना बना रही हूं।

माना जा रहा है कि राज्य सरकार द्वारा पंचायत चुनावों के लिए जो निम्न शैक्षणिक योग्यता रखी गई थी, इसका फायदा हुआ है। इस नियम की वजह से स्नातक तक शिक्षित सरपंचों की संख्या बढ़ी है। हालांकि, युक्ति एकमात्र ऐसी जिला पार्षद हैं जो विदेश से शिक्षित हैं।

इसी तरह सुघ गांव की सरपंच रिचा ने MBA की पढ़ाई की है। हरियाणा की पंचायतों में रिचा की तरह ही कई अन्य महिलाएं भी हैं जिन्होंने MBA की डिग्री ली हुई है।

फिलहाल युक्ति की जीत से ग्रामीण हरियाणा का चेहरा बदलने की उम्मीद की जा सकती है। यह जीत क्रान्तिकारी साबित हो सकती है।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement