पाक जेल में 6 साल की सज़ा काटने के बाद ये शख्स लौट रहा है भारत

Updated on 19 Dec, 2018 at 6:38 pm

Advertisement
कहते हैं मोहब्बत और जंग में सब जायज़ है, वैसे तो आपने कई लव स्टोरीज़ सुनी होंगी, लेकिन आज हम आपको एक ऐसे इंसान की कहानी बताने वाले हैं, जिसने सरहदों की परवाह किए बिना अपनी मोहब्बत को पाने के लिए 6 साल जेल में काट दिए। आज के समय में सोशल मीडिया में ज़्यादातर लोग अपने दोस्तों और रिश्तेदारो के साथ जुड़े रहने के लिए इस प्लेटफ़ॉर्म का इस्तेमाल करते है, लेकिन एक शख्स ने तो सोशल मीडिया पर अपनी ज़िंदगी का हमसफ़र ही ढूंढ लिया।

मुंबई के रहने वाले हामिद निहाल अंसारी 6 साल से पाकिस्तान के कोहाट की पेशावर सेंट्रल जेल में बंद रहे। उनका जुर्म था मोहब्बत। बीते शनिवार को हामिद अपनी 6 साल की सजा पूरी करके मंगलवार को भारत वापिस लौट रहे हैं।

2012 में हामिद को सोशल मीडिया के ज़रिए पाकिस्तान के कोहाट में रहने वाली लड़की से मोहब्बत हो गई थी। उससे मिलने के लिए हामिद अवैध तरीके से अफ़गानिस्तान से होकर पाकिस्तान पहुंचे। इसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें भारतीय जासूस और पाक विरोधी अपराध के लिए 6 साल के लिए जेल में डाल दिया।

 


Advertisement

लंबे समय से हामिद के बूढ़े माता-पिता अपने बेटे की रिहाई के लिए मांग कर रहे थे। हामिद मैनेजमेंट सांइस में डिग्री लेकर मुंबई में लेक्चरार की नौकरी कर रहे थे। उनकी मां फ़ैज़िया मुंबई में हिंदी प्रोफेसर के अलावा कॉलेज की वाइस प्रिंसिपल भी हैं। पिता निहाल अंसारी बैंक में काम करते हैं।

 



जानकारों की माने तो हामिद पाकिस्तान जाने के लिए जिद्द पर अड़ गया था। उन्होनें कई बार वीज़ा के लिए आवेदन भी किया। मगर वीज़ा न लगने के कारण हामिद अवैध तरीके से पाकिस्तान जाने के लिए तैयार हो गए।

पाकिस्तान कोर्ट ने सभी औपचारिकताओं को पूरा करने का आदेश दिया है। साथ ही जल्द से जल्द हामिद को बाघा बॉर्डर से हिंदूस्तानी अफ़सरों को सौंपने की बात कही है।

पाकिस्तान की जेल में 6 साल गुज़ारने के बाद मंगलवार को हामिद अंसारी अपने वतन वापस लौट आए, भारतीय सीमा में दाखिल होते ही उन्होंने सबसे पहले अपने वतन की धरती को चूमा, हामिद का परिवार उन्हें लेने के लिए अमृतसर स्थित वाघा बॉर्डर पहुंचा था। इसके बाद हामिद और उनके परिवार वालों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात की। शुषमा स्वराज से मिलते ही उनकी आंखें भर आईं और वो फूट-फूट कर रोने लगे।

 


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement