इस सरकारी अफसर ने ऑफिस न जाने का दिया गजब बहाना, कहा- ‘मैं कल्कि अवतार हूं, ऑफिस नहीं आ सकता’

Updated on 21 May, 2018 at 9:50 am

Advertisement

ये दुनिया भांति-भांति के लोगों से भरी हुई है, जिन्हें देखकर कभी हंसी आती है तो कभी घोर आश्चर्य भी होता है। वैसे हर इंसान बचपन से ही बहाना बनाने लगता है लेकिन कुछ बहानों के सरताज निकल जाते हैं। वे ऐसे-ऐसे बहाने बनाते हैं कि सुनने वालों को सुनकर भी विश्वास नहीं हो पाता है। अक्सर दफ्तर लेट से आने या अनुपस्थित रहने पर अमूमन लोग कुछ बहाना बना लेते हैं। लेकिन इस शख्स ने तो हद ही कर दी।

 

जी हां! इस महान आत्मा ने दफ्तर न आने के बहाने के रूप में खुद को तपस्या में लीन बताया।


Advertisement

 

गुजरात के रहने वाले इंजीनियर रमेशचंद्र फेफर को जब विभाग ने दफ्तर न आने का कारण पूछा तो उन्होंने खुद को भगवान बताते हुए कहा कि दुनिया की रक्षा करने के लिए वे घर पर ही तपस्या कर रहे हैं। ऑफिस में तपस्या नहीं हो पाती है, लिहाजा वे अनुपस्थित रहते हैं।

 

 

सरदार सरोवर पुनर्वस्वत एजेंसी में कार्यरत यह महाशय पिछले 8 महीनों में मात्र 16 दिन ऑफिस आ सके हैं। उन्होंने दावा किया है कि उनकी तपस्या के कारण ही पिछले 19 वर्षों से भारत में सूखा नहीं पड़ा है और अच्छी बारिश हो रही है।

 

रमेश का दावा है कि मार्च 2010 में ऑफिस में ही उन्हें आत्मानुभूति हुई कि वह भगवान विष्णु के 10वें अवतार कल्कि हैं। रमेश ने इस बात को शीघ्र साबित करने की भी बात कही।

 



 

रमेश के इस बहाने को ऑफिस नहीं जाने के क्रिएटिव बहाने का बाप बताया जा रहा है। सबसे हास्यास्पद बात ये है कि सरदार सरोवर पुनर्वस्वत एजेंसी को 8 महीनों बाद होश आया कि उनका एक अधिकारी कार्यालय से एकदम ही गायब हो गया है। ज्ञात हो कि ये एजेंसी सरदार सरोवर प्रोजेक्ट से प्रभावित लोगों के पुनर्वास हेतु कार्य करती है।

 

 

इस बहाने से लोग सोशल मीडिया पर खूब चुटकी लेते दिख रहे है। यह अब इतना वायरल हो रहा है कि लोग इसके मीम बनाकर डाल रहे हैं।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement