अब सरकार तय करेगी कि रेस्टोरेंट में कितना खाएंगे आप, खाने की बर्बादी पर लगेगी लगाम

author image
Updated on 12 Apr, 2017 at 6:10 pm

Advertisement

देश में खाने की बर्बादी पर लगाम लगाने को लेकर सरकार तैयारी में है। अब केंद्र सरकार स्टार होटलों और रेस्टोरेंट्स में आने वाले ग्राहकों को कितना खाना परोसा जाए, इसको लेकर कड़े नियम तय करेगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, केंद्र सरकार खाने की बर्बादी को ध्यान में रखते हुए होटल और रेस्टोरेंट्स में परोसे जाने वाले भोजन की मात्रा तय करने की योजना में है।

खाद्य और आपूर्ति मंत्रालय का कहना है कि अगर कोई दो इडली खाता है तो उसे चार इडली क्यों परोसी जाए। यह भोजन के साथ जनता के पैसों की भी बर्बादी है। इसे देखते हुए मंत्रालय होटल और रेस्तरां के लिए एक प्रश्नावली तैयार कर रहा है, जिसके जरिए यह ज्ञात हो सके कि ग्राहकों को परोसे जाने वाले खाने की मात्रा कितनी होनी चाहिए।

इस मसले पर खाद्य और आपूर्ति मंत्री रामविलास पासवान ने कहा है कि भोजन की मात्रा निर्धारित करने के लिए होटल-रेस्तरां मालिकों से राय ली जाएगी। इसके बाद ही इस संदर्भ में जल्द ही होटलों को दिशा-निर्देश जारी किया जाएगा कि उपभोक्ता को भोजन की कितनी मात्रा परोसी जाए।


Advertisement

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के एक प्रकरण में  इस मुद्दे पर गहरी चिंता जताई थी। उन्होंने कहा था कि एक ओर देशभर में शादी-पार्टियों के आयोजन और होटलों में बड़ी मात्रा में खाने की बर्बादी होती है तो दूसरी तरफ सैकड़ों लोगों को भूखे पेट ही सोना पड़ता है।

कृषि मंत्रालय के एक अध्ययन के अनुसार इस एक आकंडे पर नजर डालेंं तो देश में हर साल करीब 67 मिलियन टन खाने की बर्बादी होती है। ऐसे में सरकार का बड़ा कदम लेना वक्त की जरूरत भी है।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement