सुबह 4 बजे ही शुरू होता है यह सरकारी स्कूल; चलता है रात के 10 बजे तक

author image
Updated on 20 Jan, 2016 at 12:57 pm

Advertisement

इस देश में एक स्कूल ऐसा है, जो सुबह 4 बजे शुरू होता है और रात के 10 बजे तक चलता है, जबकि तापमान माइनस डिग्री में होता है। जी हां, हिमाचल प्रदेश के जन जातीय जिला लाहौल-स्पीति में स्थित यह सरकारी स्कूल शिक्षा के क्षेत्र में एक ऩई मिसाल कायम कर रहा है।

उदयपुर उपमंडल का सलग्रां हाई स्कूल को इसके प्रधानाध्यापक शिवलाल अपने दम पर दिन-रात चला रहे हैं। मजे की बात है कि ऐसा करने के लिए कोई सरकारी आदेश नहीं है। इसके बावजूद बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए शिवलाल छुट्टी नहीं लेते और रविवार को भी क्लास लगाते हैं।

यही नहीं, बच्चों के भोजन की व्यवस्था भी वह स्वयं करते हैं। गुरु-शिष्य की परम्परा के इस देश में शिवलाल के समर्पण को देखते हुए शिक्षा विभाग अब उन्हें एक खास पुरस्कार से सम्मानित करने की योजना बना रहा है।


Advertisement

लाहौल घाटी करीब छह महीने तक माइनस डिग्री तापमान में रहती है। वर्ष 1988 से अध्यापन से जुड़े 50 वर्षीय शिवलाल कई महीनों तक अपने घर नहीं नहीं जाते, जो यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर है। यही नहीं, वह अपने पैसे से स्कूल का ग्राउन्ड भी बनवा चुके हैं।



बताया गया है कि सुबह चार बजे से चलने वाले इस स्कूल में शाम को पांच बजे छुट्टी हो जाती है। इसके बाद देर शाम सात बजे से रात 10 बजे तक कक्षा लगती है। शिवलाल अपने छात्रों को न केवल पढ़ाते हैं, बल्कि खेल-कूद के अलावा और भी कई अच्छी आदतें भी सिखा रहे हैं।

इस बीच, एक अखबार को शिवलाल की पत्नी छेतन डोल्मा ने बताया कि जिस स्कूल में वह पढ़ाते हैं वहां मोबाइल नेटवर्क भी नहीं लगता। यही वजह है कि बीते एक महीने उनसे सम्पर्क नहीं हो सका है। वह भले ही दूर रहते हैं, लेकिन पूरा परिवार उनके सेवाभाव की प्रशंसा करता है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement