गंगासागर मेले में 15 लाख तीर्थ यात्रियों के आने का अनुमान

author image
Updated on 12 Jan, 2016 at 7:58 pm

Advertisement

गंगासागर मेले में इस बार देश भर से करीब 15 लाख तीर्थयात्रियों के आने का अनुमान है। इस मेले का आयोजन प्रतिवर्ष पौष मास के अंतिम दिन यानि मकर संक्रान्ति को पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले में किया जाता है, जहां गंगा नदी बंगाल की खाड़ी में जाकर मिलती है।

इस साल मेले का आय़ोजन 15 जनवरी को किया जाएगा। सागर में पवित्र स्नान का समय 15 जनवरी की सुबह 7.19 बजे से लेकर 12.20 बजे तक रहेगा। मकर संक्रान्ति के दिन गंगासागर में स्नान करने को बेहद शुभ माना जाता है।

rediff

rediff


Advertisement

इस दिन देश भर से तमाम श्रद्धालु, संन्यासी आदि यहां पहुंचते हैं और गंगा में स्नान कर सूर्य को अर्घ्य देते हैं। इन दिन किए जाने वाले दान का भी विशेष महत्व है।

पश्चिम बंगाल सरकार बड़े पैमाने पर इस मेले की तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटी है।

हिन्दू धर्म में मान्यता है कि गंगासागर की पवित्र तीर्थ यात्रा सैकड़ों तीर्थ यात्राओं के समान है। तभी तो कहा गया है कि सब तीरथ बार-बार, गंगासागर एक बार।

इस स्थान तक पहुंचने के लिए तीर्थयात्रियों को अब तक असुविधा का सामना करना पड़ता रहा है। लेकिन अब तमाम सरकारी व्यवस्थाओं की वजह से यात्रा आसान हो गई है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement