असम में बाढ़ से 22 जिले चपेट में, 18 लाख लोग प्रभावित

author image
Updated on 30 Jul, 2016 at 1:46 pm

Advertisement

असम में विनाशकारी बाढ़ से 22 जिले चपेट में हैं और करीब 18 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। अब तक लगातार बढ़ रहे पानी की वजह से करीब 21 लोगों ने अपनी जानें गंवाई हैं।

वहीं, राज्य में बाढ़ से बिगड़ते हालात के बीच हजारों लोगों ने राहत शिविरों में शरण ले रखी है।

इस बीच, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को बाढ़ प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने जा रहे हैं। राजनाथ के इस दौरे में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू और पीएमओ में राज्य मंत्री जिंतेंद्र सिंह भी मौज़ूद रहेंगे।

केन्द्रीय मंत्रियों का यह दल नौगांव, मोरीगांव और काज़ीरंगा नेशनल पार्क का दौरा करेगा और बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए बनाे गए शिविरों का जायजा लेगा।

इससे पहले असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने राज्य के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया था। सोनोवाल आज वरिष्ठ पदाधिकारियों के साथ बाढ़ के हालात पर चर्चा करेंगे।


Advertisement

इस बीच, काजीरंगा पार्क में 7 गैंडों सहित 25 से अधिक जंगली जानवरों की मौत हो चुकी है। पार्क के 130 से अधिक फॉरेस्ट कैम्प पानी में डूब चुके हैं।

असम में बाढ़ की स्थिति काफी भयावह है। केवल लोगों को ही नहीं जानवरों को भी बाढ़ में मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है। राज्य में ब्रह्मपुत्र समेत नदियां उफान पर हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement