5 साल की बच्ची अपना गुल्लक लेकर पहुंची पुलिस के पास, मां के हत्यारों को सजा दिलाने की गुहार

author image
Updated on 28 Jun, 2017 at 6:18 pm

Advertisement

5 साल की एक नन्ही सी बच्ची हाथ में गुल्लक लिए अपनी मां को इन्साफ दिलाने के लिए आईजी के दफ्तर पहुंची। मानवी ने अपने गुल्लक में रखे पैसों के बदले इंसाफ की गुहार लगाई है।

दरअसल, गंगानगर आई-ब्लॉक में दो महीने पहले मानवी की मां सीमा कोशिक ने खुदखुशी कर ली थी। आरोप है कि सीमा के ससुराल में उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जाता था। बच्ची की मां को इस हद तक मानसिक और शारीरिक प्रताड़ित किया गया कि उन्होंने आत्महत्या कर ली।


Advertisement

सीमा के पिता ने मृतका के पति समेत अन्य ससुरालवालों के खिलाफ खुदकुशी के लिए उकसाने और दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कराया। सीमा के परिवारवालों का कहना है कि उसे इन्साफ दिलाने के लिए उपयुक्त कारवाई नहीं की जा रही है। हालांकि, अभी सीमा के पति संजीव शर्मा जेल में बंद है, लेकिन इन्साफ की मांग को लेकर सीमा की मासूम बेटी अपना गुल्लक लेकर आईजी कार्यालय पहुंच गई। यह गुल्लक उसकी मां ने ही उसे दी थी, जिसमें मानवी करीबन डेढ़ सालों से पैसे जमा कर रही थी।

मानवी ने आईजी को गुल्लक दिया और कहा- “मेरे पास इतने ही पैसे हैं। मेरी मां के हत्यारों को पकड़वा दीजिए।” बच्ची के मुंह से ये शब्द सुनकर वहां आईजी समेत खड़े अन्य अधिकारियों का दिल पसीज गया।  आईजी ने इस मामले में एसएसपी को तुरंत सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement