पहली बार ISRO और NASA आए एक साथ, मिलकर बनाएंगे सैटेलाइट NISAR

author image
Updated on 24 May, 2017 at 3:06 pm

Advertisement

भारत अंतरिक्ष के क्षेत्र में नित नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। विश्व के कई बड़े देश अंतरिक्ष में भारत की बढ़ती भागीदारी से प्रभावित हुए हैं। ऐसे में अब दुनिया की सबसे बड़ी अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी NASA, भारत के राष्ट्रीय अंतरिक्ष संस्थान ISRO के साथ मिलकर एक बड़े प्रोजेक्ट पर काम करने जा रही है।

भारत और अमेरिका, दोनों देश मिलकर अब एक सैटेलाइट बनाने जा रहे हैं। इस सैटेलाइट का नाम NISAR होगा ।

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट को लेकर जानकारी देते हुए वैज्ञानिक पॉल ए रोजेन ने बताया कि यह NASA और ISRO का संयुक्त रूप से शुरू किया गया पहला प्रोजेक्ट है।


Advertisement

इस सैटेलाइट NISAR (NASA-ISRO Synthetic Aperture Radar satellite) के दुनिया के सबसे मंहगी इमेजिंग सैटेलाइट होने का अनुमान है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दोनों देशों के लिए इसकी कीमत 9,600 करोड़ रुपये (1.5 बिलियन डॉलर) की बताई जा रही है। भारतीय और अमेरिकी वैज्ञानिक दिन रात इस प्रोजेक्ट पर लगे हुए हैं।

इस सैटेलाइट के जरिए पृथ्वी की टैक्टॉनिक प्लेट्स, बर्फ की परतें, ज्वालामुखी का फटना, समुद्री स्तर में उतार-चढ़ाव, वनस्पतियों आदि चीजों को मॉनिटर कर सकना आसान होगा।

भारत से ही इस सैटेलाइट को लॉन्च किया जाएगा। 2021 तक इसके लॉन्च होने की उम्मीद है। यह प्रोजेक्ट भारत और अमिका के बीच मैत्रीपूर्ण संबधों को सकारात्मक दिशा प्रदान करेगा।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement