ग्रामीण भारत को बैंकिंग धारा से जोड़ रहा है फिनो

author image
Updated on 23 Dec, 2016 at 5:15 pm

Advertisement

फिनो पेटेक ग्रामीण भारत को बैंकिंग धारा से जोड़ रहा है। यह सेवा  गांवों, कस्बों और छोटे कामगारों को बैंकिंग सुविधाएं प्रदान करता है। इससे छोटे कारोबारी आसानी से अपना पैसा जमा करने के साथ ही अन्य लेनदेन कर सकते हैं।

फिनो पेटेक का उद्देश्य वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देना है। इसके तहत लघु बचत खाते खोलना, प्रवासी श्रमिक वर्ग, निम्न आय अर्जित करने वाले परिवारों, लघु कारोबारों, असंगठित क्षेत्र के अन्य संस्थानों व अन्य उपयोगकर्ताओं को भुगतान, विप्रेषण सेवाएं प्रदान करना सहज होता है। यह इसलिए भी जरूरी है क्योंकि आज भी अधिकांश भारतीय नागरिक गांवों में निवास करते हैं।

आपको बता दें कि 125 करोड़ से अधिक जनसंख्या वाले इस देश में आज भी लगभग 24 करोड़ लोग बैंकिंग सेवाओं से नहीं जुड़ सके हैं।  हालांकि, प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत बैंकिंग सेवा से दूर लोगों को बैंकिंग से जोड़ने के लिए चलाए गए अभियान से 19 करोड़ लोगों को बैंकों से जोड़ने में सफलता जरूर मिली है, लेकिन जनसंख्या का एक बड़ा वर्ग आज भी बैंकिंग सेवा से दूर है।

आज भी ग्रामीण एवं शहरी इलाकों के कई छोटे व्यापारी व कम आय वाले लोग नकदी लेनदेन किया करते हैं और अपनी नकदी घर पर ही रखते हैं। इससे एक तो उन की राशि असुरक्षित होती है, दूसरी ओर उन्हें अपनी धनराशि पर कोई ब्याज नहीं मिलता।


Advertisement

ऐसे में फिनो पेटेक अपने फाइनेंसियल लिटरेसी प्रोग्राम (FLP) यानी कि वित्तीय साक्षरता जागरुकता कार्यक्रमों के जरिए ग्रामीण एवं छोटे शहरी कारोबारियों में बैंकिंग के प्रति एक नई सोच विकसित करने की दिशा में काम कर रहा है, ताकि देश में बैंकिंग व्यवस्था को बढ़ावा मिले। फिनो पेटेक ग्रामीण लोगों को बैंकिंग धारा से जोड़ रहा है साथ ही बैंकिंग प्रणाली के प्रति जागरूकता फैला रहा है।

फिनो कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों के लिए पसंदीदा फाइनेंसियल लिटरेसी पार्टनर है।

यह वर्ष 2010 से देश भर के कई राज्यों में अपना फाइनेंसियल लिटरेसी प्रोग्राम का आयोजन करता आ रहा है।इस प्रक्रिया के तहत फिनो ने बैंक की सुविधाओं से वंचित पांच लाख से अधिक लोगों को अपने प्रोग्राम के जरिए सशक्त बनाया है। अपने इस कार्यक्रम के जरिए फिनो, लोगों को बैंकिंग सुविधाओं के प्रति जागरूक बनाने के लिए इंटरैक्टिव प्रोग्राम्स का आयोजन करता है, जिसमें स्थानीय भाषाओं में लोगों को कई गतिविधियों के जरिए वित्तीय साक्षरता के बारे में बताया जाता है। इस तरह के कार्यक्रम बैंकिंग सेवाओं और उत्पादों के बारे में जागरूकता पैदा करने में मदद करते हैं।

fino

वित्तीय साक्षरता जागरुकता कार्यक्रम आयोजित करते हुए फिनो undp

वर्ष 2010 में फिनो ने राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (NABARD) से सहभागिता करते हुए वित्तीय साक्षरता केंद्र के अंतर्गत अपने वित्तीय साक्षरता जागरुकता कार्यक्रमों के जरिए 54,000 लाभार्थियों को प्रशिक्षित किया।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement