मशहूर कव्वाल अमजद साबरी की गोली मारकर हत्या

author image
Updated on 22 Jun, 2016 at 7:26 pm

Advertisement

पाकिस्तान के मशहूर कव्वाल अमजद साबरी की कराची में बुधवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई। अमजद साबरी पाकिस्तान के सबसे अच्छे कव्वालों में से एक थे। उनकी कव्वालियां पाकिस्तान ही नहीं भारत और पूरी दुनिया में मशहूर हैं।

बताया गया है कि शहर के लियाकताबाद इलाके में साबरी की कार पर बंदुकधारियों ने अंधाधुंध गोलियां बरसाईं। गंभीर रूप से घायल अवस्था में उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

इस रिपोर्ट में बताया गया है कि दो बंदूकधारी एक मोटरसाइकल पर आए थे। उन्होंने साबरी की कार पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं। 45 साल के साबरी इस गोलीबारी में गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

साबरी और उनके परिजनों को पहले भी हत्या की धमकियां मिल चुकी थी। उन्होंने पाकिस्तान के गृह मंत्रालय को अर्जी देकर सुरक्षा की गुहार की लगाई थी, लेकिन उनकी इस अर्जी पर कोई ध्यान नहीं दिया गया था।

वर्ष 2014 में लगे थे ईशनिन्दा के आरोप

अमजद साबरी पर वर्ष 2014 में ईशनिन्दा के आरोप लगे थे। इस साल साबरी की कव्वाली चलाने के लिए दो टीवी चैनलों को इस्लामाबाद हाईकोर्ट ने एक नोटिस जारी किया था। बताया गया कि इस कव्वाली में कई धार्मिक हस्तियों का जिक्र था, जिसे कुछ लोगों ने ईश्वर का अपमान माना था। हालांकि, अब तक यह साफ नहीं है कि इसी वजह से उनकी हत्या की गई या मामला कुछ और है।

अमजद साबरी ने सूफियाना संगीत को नया मुकाम बख्शा है और सालोंसाल से एक परंपरा को आगे बढ़ाया है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement