गजब! इस दूल्हे ने किया ऐसा काम जो आप सपने में भी नहीं सोच सकते, दिया कई लड़कियों को धोखा

Updated on 25 Jun, 2018 at 4:45 pm

Advertisement

कुछ समय पहले उत्तराखंड की रहने वाली एक लड़की ने अपने पति कृष्‍णा सेन के खिलाफ दहेज प्रतारणा और मारपीट का आरोप का लगाया था। हल्द्वानी पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक कृष्णा सेन को शहर से गिरफ्तार कर लिया। हालांकि, युवक की गिरफ्तारी के बाद एक ऐसा स्याह सच सामने आया, जिसे सुनकर पुलिस के होश ही उड़ गए।

 

 

आरोपी युवक ने पूछताछ के दौरान इस बात का खुलासा किया कि वह कोई पुरुष नहीं, बल्कि एक महिला है, जिसने दो-दो युवतियों से शादी रचाई है। इस सच के सामने आने से हर कोई हैरत में है।

यह महिला वर्षों से पुरुष के नकली  भेस में लोगों को धोखा दे रही थी। महिला का असली नाम कृष्णा सेन नहीं, बल्कि स्वीटी सेन है। इस महिला ने दो-दो युवतियों से शादी की और फिर उनसे दहेज के नाम पर लाखों रुपयों की वसूली की। स्वीटी नाम की यह महिला पुरुष के रूप में अपनी पत्नियों को डरा धमका कर रखती थी। इतना ही नहीं अपनी मर्दानगी साबित करने के लिए वह उनके साथ मारपीट भी किया करती थी।

 


Advertisement

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बिजनौर की रहने वाली स्वीटी ने साल 2013 में कृष्णा सेन नाम से एक फर्जी फेसबुक आईडी बनाई थी। इस पर उसने अपनी कुछ ऐसी तस्वीरें डाली जिसमें वो मर्द सी दिखती थी। कुछ ही समय में उसने इस आईडी के जरिए बहुत सी लड़कियों से दोस्ती भी कर ली।

इस दौरान उसने बड़ी ही चतुराई से अमीरी का झांसा देकर काठगोदाम की एक युवती  को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया। साल 2014 में इस युवती से शादी करने के बाद स्वीटी ने उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरू कर दिया। इस दौरान उसने पहली पत्नी से काफी पैसे भी ऐंठे।

 

स्वीटी की धोखेबाजी और जालसाजी का सिलसिला यहीं नहीं रुका। साल 2016 में उसने एक और लड़की को फंसाकर उसके साथ शादी की। इसके बाद हल्द्वानी में ही एक किराए के घर में वह अपनी दोनों पत्नियों के साथ रहना लगी। इस दौरान स्वीटी की दूसरी पत्नी को उसके इस झूठ का पता चल गया। हालांकि, स्वीटी ने किसी तरह उसे बहला-फुसला कर  यह बात दबाए रहने के लिए मना लिया। वहीं उसकी पहली पत्नी ने तंग आकर जब उसके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई, तब जाकर यह मामला सामने आ गया।

बताया जा रहा है कि इस जुर्म में स्वीटी के परिवार वाले भी शामिल थे।

 

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement