Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

NCC ने कई मौकों पर कराया है भारत को गौरवान्वित, जानिए इससे जुड़े 15 रोचक तथ्य

Updated on 8 March, 2017 at 12:57 pm By

NCC (नेशनल कैडेट कॉर्प्स) भारतीय सैन्यबल का एक सेवा संगठन है। यह भारतीय सशस्त्र बलों की सैन्य कैडेट कॉर्प्स विंग का हिस्सा है। इस संगठन की स्थापना सन् 1948 में नेशनल कैडेट कॉर्प्स एक्ट द्वारा स्वतंत्रता के कुछ महीनों बाद ही हो गई थी। तब से लेकर आज तक NCC ने भारत को अनगिनत मौकों पर गौरवान्वित कराया है।


Advertisement

NCC से जुड़ी कुछ बेहद दिलचस्प बातें इस प्रकार हैंः

1. वर्ष 1948 में जहां इस संगठन में मात्र 20,000 कैडेट थे। वहीं, आज करीब 13 लाख कैडेट NCC का हिस्सा हैं।

2. वर्तमान भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कभी एक NCC कैडेट थे।

क्या कभी इस नन्हे बालक ने सोचा होगा कि एक दिन वह भारत की 125 करोड़ आबादी का नेतृत्व करेगा?

लेकिन जैसे कहा जाता है समय अपनी रफ़्तार से आगे चलता रहता है। यहां कुछ दशकों बाद वही युवा NCC कैडेट बाकी NCC कैडेट के गार्ड ऑफ ऑनर का निरीक्षण करते हुए।

चलिए देखते हैं क्या आप अपने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी को इस तस्वीर में खोज पाते हैं?

उल्लेखनीय है कि ऐसे बहुत सारे सफल व्यक्ति NCC कैडेट रह चुके हैं।

3. लड़कियां भी लड़कों की तरह सफलतापूर्वक NCC की गतिविधियों में हिस्सा लेती है। जहां लड़कियां NDA और IMA का हिस्सा नहीं हैं, वहीं NCC में उन्हें उचित सम्मान और अवसर मिलता है।

मिलिए चंडीगढ़ से NCC कैडेट कुमुदिनी से जिन्होंने फरवरी में सर्वश्रेष्ठ ऐयर कैडेट प्रतियोगिता का खिताब अपने नाम किया।

4. NCC में महिलाओं की एक पूरी अलग रेजीमेन्ट है- होल टाइम लेडी ऑफिसर।


Advertisement

100 से अधिक NCC गर्ल्स कैडेट इस भारतीय सेना रेजीमेन्ट में ऑफिसर हैं।

5. वर्ष 1965 से 1971 के बीच भारत-पाकिस्तान युद्ध में NCC कैडेट मोर्चाबंदी की दूसरी पंक्ति पर तैनात थे।

युद्ध के दौरान NCC कैडेट्स ऑर्डिनेस्स फैक्ट्री में गोला-बारूद की आपूर्ति और गश्त लगाने के लिए तैनात किए गए थे। बड़ी संख्या में कैडेट्स बचाव कार्यों के अलावा यातायात निर्देश देने का काम भी कर रहे थे।

6. वर्ष 1963 के बाद से देश ने NCC प्रशिक्षण को सभी नागरिकों के लिए अनिवार्य कर दिया था।



कुछ वर्षों के बाद सन् 1968 में NCC को दोबारा स्वैच्छिक संगठन बना दिया गया था।

चित्र में कैडेट NCC रैली के दौरान भारतीय सेना के हेलीकाप्टर से कूदते हुए अपने हुनर का प्रदर्शन करते हुए दिखाई पड़ रहे हैं।

7. प्रथम अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर 9.5 लाख NCC कैडेट्स ने 1805 केन्द्रों पर योग का प्रदर्शन किया था।

इनमें से कुछ केन्द्र लेह, कन्याकुमारी और अंडमान निकोबार द्वीप समूह जैसी दूर दराज़ जगहों पर भी बनाए गए थे।

8. वियतनाम में NCC कैडेट्स यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम का हिस्सा रहते हैं।

वियतनाम के यूथ एक्सचेंज प्रोग्राम में हिस्सा लेते NCC कैडेट

9. गणतंत्र दिवस पर NCC कैडेट्स इस साल मार्चिंग प्रतियोगिता में तीसरे स्थान पर रहे।

10. वर्तमान NCC गीत के गीतकार सुदर्शन फ़कीर हैं।

“कदम मिला के चल” NCC का पुराना गीत था। वर्ष 1982 में “हम सब भारतीय हैं” NCC गीत बनाया गया था।

सुदर्शन फ़कीर पहले गीतकार हैं, जिन्हें अपने पहले ही गीत के लिए फिल्मफेयर अवार्ड से नवाज़ा गया था। उनके कुछ मशहूर गीत हैंः “वो कागज़ की कश्ती” और “हे राम…हे राम”।

11. NCC का आदर्श है- “एकता और अनुशासन”

वर्ष 1957 में इस आदर्श वाक्य को अपनाया गया था। NCC का उद्देश्य युवाओं के एक शक्तिशाली संगठन का निर्माण कर उन्हें अनुशासित और ज़िम्मेदार नागरिक बनाना है।

12. NCC ध्वज के तीन रंग भारतीय सेना के तीन प्रभागों को दर्शाते हैं। लाल आर्मी, नीला नेवी और आसमानी रंग एयर फ़ोर्स।

राइडर NCC ध्वज को फहराते हुएsainiksamachar

13. विभिन्न प्रभाग के कैडेट अलग-अलग रंगों की वर्दी पहनते हैं (आर्मी का खाकी रंग, नेवी का सफेद और एयर फ़ोर्स का हल्का नीला रंग)।

14. कॉर्प्स की अध्यक्षता लेफ्टिनेंट जनरल रैंक के ऑफिसर करते हैं।

लेफ्टिनेंट जनरल कॉर्प्स का निदेशक होता है। NCC ध्वज में 17 कमल NCC के निदेशालयों को दर्शाते हैं।

15. NCC के चार मुख्य सिद्धांत हैंः


Advertisement

(i) मुस्कुराते हुए ज़िम्मेदारियों का पालन करो
(ii) समयबद्ध रहो
(iii) मेहनत करो
(iv)काम से मत बचो और झूठ मत बोलो

Advertisement

नई कहानियां

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं

Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें Military

नेट पर पॉप्युलर