जिसे मीडिया ने बनाया छेड़छाड़ का आरोपी, वह शख्स असल में कर रहा था महिला की मदद

author image
Updated on 5 Oct, 2017 at 1:57 pm

एलफिंस्टन रोड रेलवे स्टेशन के पास फुट ओवर ब्रिज पर हुए हादसे से जुड़ा एक विडियो एक-दो दिन पहले खूब वायरल हुआ था। उस विडियो के आधार पर कहा गया था कि एक शख्स फुटओवर ब्रिज पर फंसी हुई  महिला के साथ छेड़छाड़ करता दिख रहा है।

‘द हिंदू’ पर पहले छपी यह खबर अन्य मीडिया आउटलेट पर भी आग की तरह फैल गई। कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि शख्स मुसीबत में फंसी महिला का फायदा उठा रहा है। इसके बाद विडियो में दिखाई दे रहे आदमी के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की जाने लगी। पुलिस भी वायरल विडियो की सच्चाई की जांच में जुट गई। अब इसी बीच विडियो का दूसरा पहलू भी सामने आया है।

पहला जो विडियो था वो 8 सेकंड था, जिससे पूरे मामले को समझ पाना मुश्किल है। लेकिन अब जो विडियो सामने आया है, उसे देखकर लगता है कि जिस शख्स को दोषी करार दिया जा रहा है वो असल में फंसी महिला को बचाने की कोशिश कर रहा था।

विडियो की सच्चाई जाने बिना किसी पर इतना संगीन इल्जाम लगाने को लेकर लोगों में नाराजगी है। अब अखबार से माफी मांगने को कहा जा रहा है।

गौरतलब है कि 29 सिंतबर को मुंबई में एलफिंस्टन स्टेशन पर बने फुटओवर ब्रिज पर ज्यादा भीड़ की वजह से भगदड़ मचने के बाद 23 लोगों की मौत हो गई थी। जबकि 35 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

आपके विचार