आधार पर खुली चुनौती देने वाले एलियट एल्डरसन के बारे में कितना जानते हैं आप?

Updated on 31 Jul, 2018 at 4:20 pm

Advertisement

आधार नंबर और इसकी सुरक्षा पर कई तरह के सवाल उठाए जाते रहे हैं। विशेषकर डेटा सुरक्षा को लेकर आशंका जताई जाती रही है, जिसको टेलीकॉम रेगुलेटर अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) बार-बार ख़ारिज करती रही है। इसी क्रम में ट्राई के चेयरमैन आरएस शर्मा ने ट्विटर पर अपना आधार नंबर जारी करते हुए इसे हैक करने की चुनौती पेश की थी। हालांकि, हद तो तब हो गई जब एक विदेशी शख्स ने शर्मा का न केवल फोन नंबर बल्कि बैंक अकाउंट नंबर, पता, पैन नंबर सहित कई जानकारियां ट्विटर पर शेयर कर दी।

 

इस हैकर का नाम है एलियट एल्डरसन। फ्रांस के एल्डरसन ने अब पीएम मोदी को खुली चुनौती दी है।

 

 

ट्राई के चेयरमैन आरएस शर्मा ने आधार की सुरक्षा का दावा करते हुए अपना आधार नंबर ट्विटर पर शेयर किया था। उन्होंने दावा किया था कि कोई उनका आधार डेटा लीक करके दिखाए। इसके बाद ही एल्डरसन ने उनकी जानकारी सार्वजनिक कर दी। साथ ही साथ उसने ट्विटर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी अपना आधार नंबर शेयर करने का चैलेंज दे डाला।

 

 

यूआईडीएआई ने स्पष्ट किया कि एल्डरसन द्वारा दी गई जानकारी गूगल से ली गई है। हालांकि, एल्डरसन हमेशा से आधार सिस्टम की सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर करते रहे हैं। अब सवाल ये उठता है कि आखिर ये फ्रांसीसी कौन है जो आधार के पीछे हाथ धोकर पड़ गया है।

आइये आपको एल्डरसन की पूरी जानकारी देते हैं!


Advertisement

 

एलियट एल्डरसन का मूल नाम रॉबर्ट बैपटिस्ट है जो एक एथिकल हैकर है। वह बतौर नेटवर्क और टेलीकम्युनिकेशन इंजीनियर कार्यरत है। इससे पहले एल्डरसन ने आधार के मोबाइल ऐप को हैक करने का दावा किया था। एल्डरसन के मुताबिक उसके पास 22 हजार से ज्यादा आधार कार्ड की डिटेल्स है।

 

 

बता दें कि बैपटिस्ट ने अमेरिकी ड्रामा थ्रिलर से प्रेरित होकर अपना नाम ‘एलियट एल्डरसन’ रखा है। इस थ्रिलर में एलियट नामक पात्र साइबर सुरक्षा इंजीनियर और हैकर है। उसका एक प्रसिद्ध डायलॉग है-‘मैं रात में एक हैकर हूं और दिन में एक साइबर सुरक्षा इंजीनियर…।’

ये कहना बेहद मुश्किल है कि आखिर एलियट को भारत और भारत के लोगों की इतनी चिंता क्यों है!

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement