10 हजार कॉपी और किताबों से बनेगी भगवान गणेश की प्रतिमा, खास है योजना

4:00 pm 31 Jul, 2018

Advertisement

सावन के साथ ही पूजनोत्सव का दौर शुरू हो गया है। गणेश पूजा से होली तक देश भर में अनेक पूजनोत्सव का आयोजन होने वाला है। आजकल थीम पूजा का चलन हो गया है और लोग पूजा के माध्यम से कुछ विशेष करने के आग्रही रहते हैं। होशंगाबाद में गणेश पूजन खूब धूमधाम से मनाई जाती है और इस बार की जो थीम है वो बेहद आकर्षक तो है ही, साथ ही प्रेरणा प्रदान करने वाली है।

 

 


Advertisement

गणेश प्रतिमा बनाने के लिए पाठ्य सामग्री का उपयोग किया जा रहा है जिससे लोगों की उत्सुकता बढ़ रही है!

 

 

भगवान गणेश की यह प्रतिमा 11 फीट ऊंची होगी, जिसमें लगभग 10 हजार कॉपी-किताबों का उपयोग किया जाएगा। प्रतिमा को आकर्षक बनाने के लिए पेंसिल, रबर आदि का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए सबसे पहले गणेश प्रतिमा का ढांचा तैयार किया जा रहा है। इसके बाद इसे सजाने का काम किया जाएगा, जिसमें भारी संख्या में कॉपी-किताब की जरूरत होगी।

 



नपाध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल कहते हैंः

“नर्मदापुर युवा मंडल के सदस्य प्रतिमा निर्माण में लग गए हैं। हम शुरू से ही जन्मदिन आदि के उपहार में पुष्पहार व अन्य सामग्री के बजाय पेंसिल, कॉपी व पाठ्य सामग्री लिया करते थे। इसे हम बाद में स्कूल के बच्चों में बांट दिया करते थे। प्रतिमा निर्माण के इस विचार से बच्चों को मदद मिलेगा, तो वहीं जल प्रदूषण को भी रोका जा सकेगा।”

 

 

गणेशोत्सव के दौरान प्रतिदिन आरती के बाद प्रसाद के तौर पर स्कूल के बच्चों को पाठ्य सामग्री दी जाएगी। मंडल के सदस्य शहर में घूमकर प्रचार-प्रसार व जनजागरूकता में लगे हुए हैं, ताकि प्रतिमा विसर्जन के समय जल-प्रदूषण को कम किया जा सके।

ऐसे छोटे-छोटे कदमों से हम बड़े लक्ष्य भी प्राप्त कर सकते हैं। हम सभी को प्रकृति के रक्षार्थ प्रयास करने चाहिए।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement