विडियोः वेनेजुएला के राष्ट्रपति पर ड्रोन से हमला, नेशनल गार्ड ने ऐसे बचाई जान

author image
Updated on 6 Aug, 2018 at 2:22 pm

Advertisement

वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो एक ड्रोन हमले में बाल-बाल बच गए। हालांकि, हमले में सात जवानों के घायल होने की खबर है। ये हमला उस वक्त हुआ जब मादुरो राजधानी कराकस में नेशनल गार्ड की 81वीं वर्षगांठ के मौके पर खुले मैदान में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

 

 


Advertisement

भाषण के दौरान ही विस्फोटक भरे ड्रोन से मादुरो पर हमला करने का प्रयास किया गया। विस्फोटकों से लदा एक ड्रोन खुले मैदान पर फट पड़ा। हमले के बाद हर तरफ अफरातफरी मच गई।

 

 

इसके बाद वहां मौजूद देश के नेशनल गार्ड के जवान तत्काल हरकत में आए और पूरे क्षेत्र को घेर लिया। अंगरक्षक मादुरो के सामने बैलिस्टिक ढाल लेकर उन्हें सुरक्षा देने के लिए तुरंत पहुंचे। फिर राष्ट्रपति मादुरो को मंच से उतारकर सुरक्षित स्थान पर ले जाया गया।

 

 

इस हमले में आस-पास की इमारतों को नुकसान पहुंचा और कई जवान घायल भी हुए।

 

 

मादुरो ने इस हमले के लिए कोलंबिया के राष्ट्रपति खुआन मैनुअल सैन्टोस को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहाः

 

“मेरी हत्या करने के मकसद से हमला किया गया है। मुझे इसमें कोई शक नहीं है कि इस हमले से जुड़े सभी पहलू बताते हैं कि इसके पीछे वेनेजुएला और कोलंबिया की दक्षिणपंथी ताकतें और कोलंबियाई राष्ट्रपति खुआन मैनुअल सैन्टोस हैं। मुझे इस बात पर कोई शक नहीं है।”



 

 

हालांकि, कोलंबियाई सरकार ने मादुरो के इस आरोप को आधारहीन बताया है। इस घटना का एक विडियो भी सामने आया है। इस विडियो में नजर आ रहा है कि अचानक विस्फोट की आवाज आती है और सब ऊपर की ओर देखने लगते हैं। राष्ट्रपति के भाषण के बीच अचानक अफरातफरी मच जाती है। इतने में राष्ट्रपति की सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मी राष्ट्रपति मादुरो को पूरी तरह से कवर कर लेते हैं और सुरक्षित घटनास्थल से ले जाते हैं।

 

दूसरी तरफ, एक संदिग्ध विद्रोही समूह ने राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर हुए ड्रोन हमले की जिम्मेदारी ली है। समूह ने सोशल मीडिया पर जारी एक बयान में कहा हैः

 

“ऐसी सरकार को सत्ता में रखना सेना के सम्मान के खिलाफ है, जो न केवल संविधान को भूल गई है बल्कि जिसने सरकारी दफ्तरों को अमीर बनने का एक जरिया बना दिया है।”

उधर, इस पूरे मामले में छह आतंकवादियों को गिरफ्तार किए गया है। इसकी जानकारी वेनेजुएला सरकार ने दी है।

 

उल्लेखनीय है कि बीते मई में ही वेनेजुएला में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव हुआ था, जिसमें निकोलस मादुरो ने जीत हासिल की थी। हालांकि, मादुरो पर चुनाव में धांधली करने का भी आरोप लगाया था।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement