डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के करीब, कांटे की टक्कर में हिलेरी को लगा झटका

author image
Updated on 9 Nov, 2016 at 12:31 pm

Advertisement

सभी चुनाव पूर्व सर्वेक्षणों को गलत साबित करते हुए डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति बनने के करीब पहुंच गए हैं।

डोनाल्ड ट्रम्प को कांटे के मुकाबला वाले राज्यों ओहियो, फ्लोरिडा, इडाहो और नॉर्थ कैरोलिना में जीत मिली है। वहीं, हिलेरी को कैलिफोर्निया, हवाई और वर्जीनिया में जीत मिली है।

ट्रम्प के रूप में अमेरिका को अब तक का सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति मिलेगा। अगर वह राष्ट्रपति बनते हैं तो वह इस पद पर जाने वाले पहले गैर-राजनीतिक व्यक्ति होंगे।


Advertisement

FB A

वर्ष 2016 के अमेरिकी चुनावों को मुद्दों से हटकर शख्सियतों के टकराव के तौर पर देखा जाएगा। एक तरफ डेमोक्रेट उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन हैं, जिन्हें सरकार चलाने का पर्याप्त अनुभव है, वहीं दूसरी तरफ उद्योगपति डोनाल्ड ट्रम्प हैं, जिन्हें सरकारी कामकाज का बिल्कुल भी तजुर्बा नहीं है। इन चुनावों में मुद्दों से हटकर निजी आरोप-प्रत्यारोप हुए और छींटाकशी का दौर चला।

माना जाता है कि तमाम लोकलुभावन वायदों की वजह से डोनाल्ड ट्रम्प को जीत हासिल हुई है। वह मुसलमानों को देश में घुसने पर प्रतिबंध लगाने की बात कह चुके हैं, वहीं मेक्सिको और दूसरे देशों से आने वाले विदेशियों को रोकने के लिए दीवार बनाने की बात कही है।

यही नहीं, डोनाल्ड ट्रम्प का दावा है कि वह अगले 10 साल में 2.5 करोड़ अमेरिकियों को रोजगार देंगे। इसके लिए वो कॉरपोरेट टैक्स 35 फीसदी से घटाकर सीधे 15 फीसदी कर देंगे। ऐसा होने पर इंफ्रा, मैन्युफैक्चरिंग में निवेश बढ़ेगा और नौकरियां आएंगी।

जहां तक हिलेरी क्लिंटन की बात है तो वह तकनीक में सुधार, हरित ऊर्जा और छोटे व्यवसायों को बढ़ावा देने की बात कहती नजर आईं। अमेरिकी मध्यमवर्गीय लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए हिलेरी अमीरों पर टैक्स लगाना चाहती हैं।

अपने चुनावी अभियान के दौरान हिलेरी क्लिंटन ने वायदा किया था कि वह 50 लाख डॉलर से ज्यादा कमाने वालों पर 4 फीसदी अतिरिक्त टैक्स लगाएंगी।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement