पाकिस्तान का ऐतिहासिक फैसला, होली और दिवाली पर सार्वजनिक छुट्टी

author image
Updated on 19 Mar, 2016 at 9:53 pm

Advertisement

पाकिस्तान की सरकार ने ऐतिहासिक फैसला करते हुए होली, दिवाली और ईस्टर के दिन सार्वजनिक अवकाश को स्वीकृति दे दी है।

यहां  की नेशनल एसेम्बली में एक प्रस्ताव पारित किया गया है, जिससे अल्पसंख्यक हिन्दू और ईसाई समुदाय के लिए उनके पर्व-त्योहारों के अवसर पर सार्वजनिक छुट्टी घोषित किए जाने का रास्ता साफ हो गया है।

एसेम्बली में पीएमएल-एन के हिन्दू सांसद रमेश कुमार वांकवानी ने प्रस्ताव पेश किया और कहा कि सरकार को होली, दिवाली और ईस्टर पर अल्पसंख्यकों के लिए छुट्टियां घोषित करने के लिए कदम उठाना चाहिए।

रमेश कुमार जो पाकिस्तान हिन्दू काउन्सिल के अध्यक्ष भी हैं, ने कहा कि यह पाकिस्तान की छवि के लिए बेहतर होगा। उन्होंने कहा कि अमेरिका और भारत सहित दुनिया के कई देशों में ईद और मुहर्रम को छुट्टी होती है।

धार्मिक मामलों के राज्य मंत्री पीर अमीनुल हसनत शाह ने सदन में कहा कि गृह मंत्रालय सरकारी संस्थानों के प्रमुखों को पहले ही अनुमति दे चुका है कि वे अल्पसंख्यकों को उनके त्योहारों पर छुट्टियां दें।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement