Topyaps Logo

Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo Topyaps Logo

Topyaps menu

Responsive image

इस दिव्यांग लड़की ने पैरों से लिखकर दी दसवीं बोर्ड की परीक्षा, बनी युवाओं के लिए प्रेरणा

Published on 10 March, 2017 at 10:01 pm By

कहते हैं जहां हौसले बुलंद हो वहां कोई भी कठिनाई टिक नहीं सकती। बिहार के सारण जिले की रहने वाली अंकिता कुमारी ने एक ऐसी मिसाल कायम की है जो कई युवाओं के लिए प्रेरणा है।

अंकिता बोल नहीं सकती और न ही उनके हाथ काम कर सकने में सक्षम हैं, लेकिन पढ़ने की ललक ऐसी कि उन्होंने अपनी कमजोरियों से लड़कर दसवीं के बोर्ड की परीक्षा पैरों से लिखकर दी है।



अंकिता पहले ऐसी नहीं थी। अंकिता 5 साल की उम्र में पोलियो का शिकार हो गईं थी। इस बिमारी के कारण उसके दोनों हाथों ने काम करना बंद कर दिया और बाद में आवाज भी चली गई। अंकिता के माता-पिता अपनी बेटी के इलाज के लिए कई अस्पतालों में गए, लेकिन कहीं भी वह सही नहीं हुई।

अंकिता जैसे-जैसे बड़ी होती रही उसकी पढाई में रूचि बढ़ती गई। माता-पिता ने भी अंकिता की पढ़ाई में लगन देखकर उसका सहयोग करना शुरू कर दिया। अंकिता की शिक्षिका रूपा कुमारी बताती हैं कि अंकिता जमीन पर बैठकर पैर से आसानी से लिख लेती हैं। उसका जज्बा इतना मजबूत है कि वह जरूर एक दिन कुछ अच्छा कर दिखाएगी।


Advertisement

आज अंकिता ऐसे लोगों के लिए एक मिसाल है जो अपने जीवन में सफलता के लिए संसाधनों की कमी का रोना रोते हैं।

Advertisement

नई कहानियां

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!

Sapna Choudhary Songs: सपना चौधरी के ये गाने किसी को भी थिरकने पर मजबूर कर दें!


जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका

जानिए कैसे डाउनलोड करें YouTube वीडियो, ये है आसान तरीका


प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें

प्रधानमंत्री आवास योजना से पूरा होगा ख़ुद के घर का सपना, जानिए इससे जुड़ी अहम बातें


ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं

ब्रह्माजी को क्यों नहीं पूजा जाता है? एक गलती की सज़ा वो आज तक भुगत रहे हैं


Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं

Hindi Comedy Movies: बॉलीवुड की ये सदाबहार कॉमेडी फ़िल्में, आज भी लोगों को गुदगुदाने का माद्दा रखती हैं


Advertisement

ज़्यादा खोजी गई

टॉप पोस्ट

और पढ़ें News

नेट पर पॉप्युलर