गांव की नदी को जीवित करने के लिए 15 करो़ड़ रुपए खर्च कर रहा है यह हीरा व्यवसायी

author image
Updated on 22 Jan, 2016 at 5:12 pm

Advertisement

65 वर्ष के जेराम ठेसिया एक हीरा व्यवसायी हैं, लेकिन इन दिनों वह एक अलग ही मिशन पर काम कर रहे हैं। जी हां, करीब 15 करोड़ रुपए खर्च कर वह अपने गांव की मृतप्राय नदी को जीवित करने की कोशिश कर रहे हैं, जो यहां के स्थानीय किसानों के लिए जीवन रेखा बन सकती है।

गुजरात के इंगोराला गांव में इन दिनों 10 किलोमीटर लंबी थेबी नदी का चौड़ीकरण किया जा रहा है। करीब तीन महीने से मशीनें दिन-रात काम कर रही हैं। गांव वालों का कहना है कि थेबी नदी में पानी का बहाव यहां के लोगों के लिए वरदान सरीखा होगा।


Advertisement

ठेसिया का कहना है कि नदी की गहराई सिर्फ दो फुट और चौड़ाई 70 फुट थी। लेकिन अब इसे 25 फुट गहरा और 700 फुट चौड़ा किया जा रहा है। उम्मीद की जा रही है कि अगली बारिश में यह नदी लबालब भरी होगी और इसका लाभ स्थानीय किसानों को मिल सकेगा।



जेराम ठेसिया को लोग अब रिवर मैन कहकर बुलाते हैं। काम पूरा होने पर नदी का फायदा करीब 20 गांव के लोग ले सकेंगे। इससे न केवल भूमिगत जल का स्तर बढ़ेगा, बल्कि कुंओं में जल का स्तर बढ़ेगा। एक अनुमान के मुताबिक इस नदी से करीब 70 हजार बीघा खेती की सिंचाई की जा सकेगी।

इस परियोजना पर ठेसिया अपनी जमापूंजी तो खर्च कर ही रहे हैं, साथ ही यहां हो रहे काम पर नजर भी रख रहे हैं। जे जे एक्सपोर्ट्स प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी चलाने वाले जेराम ठेसिया कहते हैं कि वर्षों से उनका गांव पानी के लिए तरह रहा है।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement