धोनी के विडियो ने मचाया बवाल, कोच रवि शास्त्री को खुद सफाई देने आना पड़ा सामने

author image
Updated on 23 Jul, 2018 at 1:21 pm

Advertisement

भारतीय क्रिकेट टीम इंग्लैंड दौरे पर है। यहां टी-20 सीरीज में जहां भारत ने 3-2 से जीत हासिल की ,वहीं वन डे सीरीज इंग्लैंड टीम ने अपने नाम की। खास बात ये है कि इस निर्णायक वन डे मैच के बाद इंग्लैंड या भारत की टीमें नहीं, बल्कि महेंद्र सिंह धोनी सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगे। इसका कारण एक विडियो था, जिसने धोनी के रिटायरमेंट लेने के संकेतों को हवा दे दी।

 

दरअसल, लॉर्ड्स में खेले आखिरी वनडे के दौरान जब मुकाबला खत्म हुआ तो पवेलियन लौटते समय धोनी ने अंपायर से बॉल मांगी। वैसे तो धोनी जीतने वाले हर मैच का स्टंप अपने साथ ले जाते हैं, लेकिन इस बार न तो टीम इंडिया ने मैच जीता, न ही धोनी ने यादगार पारी खेली। इसके बावजूद उनका अंपायर से गेंद मांगना फैन्स को हैरान और परेशान कर गया।

 

 

इस घटना के विडियो और तस्वीरों के सोशल मीडिया पर वायरल होते देर नहीं लगी। इसके बाद धोनी के जल्द संन्यास लेने की खबर आग की तरह फैल गई।

 

 

धोनी क्रिकेट का वो सितारा है, जिसका नाम ही प्रतिद्वंदी टीम में डर बैठाने के लिए काफी है। कब यह नायाब खिलाड़ी गियर बदलकर मैच को टीम इंडिया की झोली में डाल दे, सामने वाली टीम को इसकी भनक भी नहीं लगती।

 

लिहाजा धोनी के संन्यास की खबर से क्रिकेट प्रेमियों का दिल टूटना वाजिब है। ऐसे में इस वायरल होती खबर पर फैन्स के अलग-अलग रिएक्शन देखने को मिले।

 

 

लेकिन अब इस तरह की किसी भी अटकलों पर विराम लग चुका है। टीम इंडिया की ओर से कोच रवि शास्त्री धोनी के संन्यास लेने की खबर को गलत करार दिया है। अंपायर से धोनी के बॉल लेने की तस्वीरों पर सफाई देते हुए शास्त्री ने कहाः

 

“यह बिल्कुल बकवास है, एमएस कहीं नहीं जा रहा। धोनी ने अंपायर से बॉल इसलिए ली थी ताकि वह बॉलिंग कोच भरत अरुण को दिखा सकें। भारत को अब इंग्लैंड के खिलाफ पांच मैचों की लंबी टेस्ट सीरीज खेलनी है। ऐसे में माही गेंद का नीरिक्षण कर यहां की कंडीशन से वाकिफ होना चाहते थे।”

 

 

बता दें कि धोनी ने 2014 में गुपचुप तरीके से टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। फैन्स को उम्मीद है कि धोनी अगले साल इंग्लैंड में होने वाला वर्ल्ड कप जरूर खेलेंगे।

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement