दुनिया धोनी के रिटायरमेन्ट के बारे में सोच रही है, लेकिन इस क्रिकेटर का कुछ और ही कहना है

Updated on 23 Dec, 2017 at 6:45 pm

Advertisement

पिछले 22 दिसंबर को श्रीलंका के खिलाफ पहले ट्वेंटी -20 अंतरराष्ट्रीय मैच में एम एस धोनी शानदार फॉर्म में दिखाई दिए। पहले उन्होंने 22 गेंदों पर नाबाद 39 रन बनाए और विरोधी पक्ष के चार बल्लेबाजों के आउट होने का कारण बने। इसमें दो कैच और दो स्टम्पिंग शामिल हैं। यह कहना गलत नहीं होगा कि यह धोनी ही थे, जिन्होंने श्रीलंका पर 93 रनों की महत्वपूर्ण जीत दर्ज करने में भारत की मदद की।

इसमें कोई संदेह नहीं है कि एम. एस. धोनी के क्रिकेट करियर का समापन जल्द ही होने वाला है। हालांकि, कई क्रिकेटर्स के लिए वह अब भी प्रेरणा के स्त्रोत हैं। खासकर सलामी बल्लेबाज के एल राहुल के लिए। राहुल कहते हैं कि पूर्व कप्तान धोनी अब भी न केवल भारतीय टीम के लिए एक मैच विजेता साबित हो रहे हैं, बल्कि वे बेहद प्रेरक भी हैं।

NewsX


Advertisement

डेक्कन क्रोनिकल की रिपोर्ट में के एल राहुल के हवाले से बताया गया हैः



“वह अब भी ऊर्जा से लबाब भरे हैं और ड्रेसिंग रूम में उत्साह से भरे होते हैं। वह एक मैच विजेता हैं। अब भी उनका क्रिकेट बरकरार है। उनके शॉट्स निहायत ही कातिलाना होते हैं।”

धोनी न केवल पिच पर कमाल दिखा रहे हैं, बल्कि विकेट के पीछे भी वह लाजवाब हैं। उन्होंने इस मैच के दौरान दो ऐसे अविश्वसनीय स्टंप किए जिससे टीम इंडिया विपक्षी टीम पर मजबूती से हावी हो गई। धोनी की बिजली जैसी रफ्तार वाली स्टंपिंग का विडियो बीसीसीआई ने अपनी वेबसाइट पर शेयर किया है। विडियो के पहले हिस्से में स्पिन गेंदबाज कुलदीप यादव श्रीलंकाई बल्लेबाज असिला गुणरत्ने को गेन्द फेंक रहे थे। इस दौरान वह शॉट मारने की कोशिश में क्रीज से बाहर आ गए और धोनी का शिकार बने।

जबकि विडियो के दूसरे हिस्से में धोनी ने वाइड गेंद पर सदीरा समरविक्रमा को चलता किया। इस दौरान गेंदबाजी युजवेंद्र चहल कर रहे थे।


Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement