इन चार मौकों पर जब आग-बबूला हो गए ‘कूल’ धोनी, खो दिया अपना आपा

Updated on 23 Feb, 2018 at 2:46 pm

Advertisement

महेंद्र सिंह धोनी भारतीय क्रिकेट की शान हैं और उन्होंने इसे बार-बार लगातार साबित भी किया है। उन्होंने मैदान पर विभिन्न परिस्थितियों में जिस प्रकार धैर्य दिखाया है, वह अन्य क्रिकेटरों के लिए प्रेरणाप्रद है। लेकिन कई मौकों पर वे आग-बबूले भी हुए हैं, और अपना गुस्सा भी जाहिर किया है।

आइये उन मौकों पर नजर डालते हैं जब कैप्टन कूल भी गरमा गए!

 

1. 2011 का वर्ल्ड कप फाइनल मैच

 

imgci.comइस मैच में धोनी और युवराज क्रीज पर खेल रहे थे और धोनी जल्द से जल्द भागकर 2 रन लेना चाहते थे, लेकिन युवराज ने उन्हें मना कर दिया। तब वे एकदम से भड़क गए थे।

 

2. भारत-बांग्लादेश के बीच मीरपुर वनडे मैच

 


Advertisement

भारत-बांग्लादेश के बीच 2015 में खेले गए मीरपुर वनडे मैच में रन बनाने के समय धोनी ने गेंदबाज मुस्ताफिजुर रहमान को धक्का दे दिया था। दरअसल, गेंदबाज रहमान उनके रास्ते में आकर जाने-अनजाने अवरोध कर रहे थे। लिहाजा धोनी को गुस्सा आ गया।

 

3. चिन्नास्वामी स्टेडियम के टी-20 मैच

 

बेंगलुरु के चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेले गए एक टी-20 मैच के दौरान युजवेंद्र चहल के गलत एंड पर थ्रो से कूल धोनी भड़क गए थे। जल्दबाजी करने के चक्कर में चहल ने गेंद को धोनी की तरफ ही फेंक दिया था और जेसन रॉय को रन आउट करने का मौक़ा चूक गए थे।

4. भारत और साउथ अफ्रीका के बीच मैच

 

बीते बुधवार को भारत और साउथ अफ्रीका के बीच हुए दूसरे टी-20 मैच में भी धोनी को गुस्सा आ गया। दरअसल धोनी और पांडे के बीच चौथे विकेट के लिए 98 रनों की साझेदारी हुई। धोनी ने पांडे पर चिल्लाते हुए कहा कि ‘ओए, वहां क्या देख रहा है, इधर देख ले, आवाज नहीं आएगी।’

खैर जो भी हो, धोनी हमेशा ही ‘कैप्टन कूल’ ही रहेंगे!

Advertisement

आपके विचार


  • Advertisement